Dhanteras : राशि के अनुसार धनतेरस पर खरीदें समान, नहीं होगी धन की कमी

Dhanteras : धनतेरस का पर्व धन और स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है. इस दिन धन के लिए कुबेर और स्वास्थ्य के लिए धनवन्तरी की उपासना की जाती है. इसी दिन धनवन्तरी अपने हाथों में अमृत का कलश लेकर प्रकट हुए थे. इसलिए इस दिन सम्पन्नता, समृद्धि और स्वास्थ्य के लिये लोग धातु, आभूषण और बर्तन खरीदते हैं.

Read more

Govardhan Puja – भगवान कृष्ण को प्रसन्न करने के लिए ऐसे करें गोवर्धन पूजा

Govardhan puja : हिंदू कैलेंडर के अनुसार कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि पर गोवर्धन पूजा मनाई जाती है. गोवर्धन पूजा दिवाली के दूसरे दिन आती है. हिंदू धर्म में गोवर्धन पूजा का विशेष महत्व होता है. गोवर्धन पूजा को अन्नकूट भी कहते हैं. गोवर्धन पूजा उत्तर भारत में विशेष रूप से मनाया जाता है.

Read more

जानें, रक्षाबंधन से कैसे अलग है भाई दूज

Bhai dooj : भाई दूज और रक्षा बंधन का त्योहार दोनों ही भाई बहन के रिश्तों से जुड़ा हुआ त्योहार है. रक्षा बंधन जहां हिन्दू माह श्रावण माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है वहीं भाई दूज कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को मनाया जाता है. भाई दूज दीपावली के पांच दिनी महोत्सव का अंतिम दिन होता है.

Read more

Diwali : दिवाली पर मां लक्ष्मी को चढ़ाएं ये फल और मिठाई, पूजा होती है सफल

Diwali : कार्तिक मास की धन त्रयोदशी से लेकर अमावस्या तक मां लक्ष्मी की पूजा का पर्व शुरू हो जाता है.धनतेरस और दिवाली के लोग महीनों पहले से तैयारी करते हैं. इस दिन साफ-सफाई, दीपक जाने और बर्तनों की खरीददारी की जाती है. धनतेरस पर जहां धन के देवता कुबेर, धनवंतरी और यमदीप दाम किया जाता है.

Read more

Bhai dooj : जानें, भाई दूज के दिन पूजा की विधि और भाई को तिलक लगाने का शुभ मुहूर्त

Bhai dooj :  रक्षाबंधन की तरह की भाईदूज का त्योहार भी भाई बहन के प्रेम और पवित्र रिश्ते का प्रतीक है. भाई दूज का त्योहार दिवाली के दो दिन बाद कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है.

Read more

जानें, क्यों मनाते हैं भाई दूज, क्या है इसके पीछे की कथा

Bhai Dooj  : भाई दूज भारत में मनाए जाने वाला एक बहुत ही महत्वपूर्ण पर्व है जो की भारत के कोने कोने में मनाया जाता है. भाई दोज एक हिंदू त्योहार है जो भारत और नेपाल में मनाया जाता है. यह पर्व हिन्दू धर्म के अनुयाई द्वारा मनाया जाता है. यह पर्व भाई और बहन के पावन रिश्ते के महत्व को दर्शाता है.

Read more

Dhanteras : जानें, धनतेरस के दिन खड़ा धनिया खरीदना क्यों माना जाता है शुभ

Dhanteras : धनतेरस का पर्व कार्तिक मास की त्रयोदशी को मनाया जाता है. दिवाली से पहले आने वाले इस पर्व में भगवान धनवंतरी, कुबैर की पूजा की जाती है. इस दिन यम दीप भी रात को जलाया जाता है. कहा जाता है कि धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना अक्षय फल देने वाला होता है. इस बार धनतेरस 13 नवंबर को मनाई जाएगी.

Read more

Govardhan Puja : गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है यहां से लें जानकारी

Govardhan Puja- दीपावली के अगले दिन यानि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा का पर्व मनाया जाता है. लोग इस पर्व को अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं. इस त्यौहार का पौराणिक महत्व है. इस पर्व में प्रकृति एवं मानव का सीधा संबंध स्थापित होता है. इस पर्व में गोधन यानी गौ माता की पूजा की जाती है.

Read more

Govardhan Puja : गोवर्धन पूजा कहनी है बहुत पुरानी, आप भी पढ़ें

Govardhan Puja : प्रकृति जीवन का आधार है. पेड़-पौधे और पशु-पक्षी ही मिलकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करते हैं. हिंदू धर्म में प्रकृति की महत्ता को दर्शाने के लिए कई पेड़ों और जानवरों को भगवान का दर्जा दिया गया है. इसी परंपरा को और भी आगे ले जाते हैं हमारे पर्व जैसे नाग पंचमी और गोवर्धन पूजा. आज हम जानेंगे गोवर्धन पूजा के बारे में.

Read more

Govardhan puja : जानें क्यों मनाया जाता है गोवर्धन पूजा, क्या है इसके पीछे की पौराणिक कथा

Govardhan Puja: गोवर्धन पूजा को दीवाली के अगले दिन बाद मनाया जाता है, इस बार गोवर्धन पूजा 15 नवंबर को मनाया जाएगा.  गोवर्धन पूजा पंजाब, हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश और बिहार में काफी प्रसिद्ध है. परंपरा के अनुसार इस दिन खास तौर पर गाय के गोबर से गोवर्धन पहाड़ बनाया जाता है, जिसे गोवर्धन पहाड़ के नाम से जाना जाता है

Read more
error: Content is protected !!