घुमन्तु स्वतन्त्र पत्रकार और मीडिया एजुकेटर
Singapore Diary-10: जब सिंगापुर में सुनाई दिया ‘नमो-नमो’

Singapore Diary-10: जब सिंगापुर में सुनाई दिया ‘नमो-नमो’

On

अगले दिन फिर सुबह सन राइज देखने के लालच में जल्दी उठ गयी लेकिन आज आसमान में काले बादल उमड़ घुमड़ रहे थे और सूरज के दर्शन होने मुश्किल थे।

Singapore Diary-9: क्रूज के सफर ने ‘टाइटैनिक’ की याद दिला दी

Singapore Diary-9: क्रूज के सफर ने ‘टाइटैनिक’ की याद दिला दी

On

क्रूज पर जाते ही हवाई ज़हाज़ की तरह क्रूज के अधिकारिओं ने सभी का अभिवादन किया और हमें रूम तक जाने के लिए निर्देशित किया। क्रूज पर कुल 12 डेक (फ्लोर) थे और मेरा कमरा सातवें डेक पर था। कमरा बहुत ही सुन्दर था।

Singapore Diary-8: जब ड्राइवर ने की तारीफ, दिल को छू गए शब्द

Singapore Diary-8: जब ड्राइवर ने की तारीफ, दिल को छू गए शब्द

On

आज सिंगापोर में चौथे दिन ही मुझे भारत की याद सताने लगी थी। बाजार से होटल लौटते वक्त सोचा कि टैक्सी कर ली जाये। सिंगापोर में टैक्सी सहज ही उपलब्ध है।

Singapore Diary-7: 80 रुपये में मिल रहे थे भिंडी के 14 पैकेट्स

Singapore Diary-7: 80 रुपये में मिल रहे थे भिंडी के 14 पैकेट्स

On

सिंगापोर में आज हमारा चौथा दिन था। आज सोचा, क्यों न सिंगापोर का बाजार देख लिया जाए। होटल से पता चला कि यहाँ चाइना टाउन नाम से एक बाजार है पर यहाँ से थोड़ा दूर है।

Singapore Diary-6: जब छोले-भटूरे से मिटी हमारी भूख

Singapore Diary-6: जब छोले-भटूरे से मिटी हमारी भूख

On

सेंटोसा में भी शाकाहारी खाने के ऑप्शंस बहुत कम थे। एक रेस्त्रां में वेज पिज़्ज़ा मिल रहा था, जिसे देख कर कुछ राहत मिली। उस छोटे से रेस्त्रां में पिज़्ज़ा बहुत ही बड़े साइज़ का था और लकड़ी के बड़े से गोल पट्टे पर रखा था…

सिंगापुर डायरी-5: बुर्का पहने चीनी लड़कियां और उनकी CockTail Marriage

सिंगापुर डायरी-5: बुर्का पहने चीनी लड़कियां और उनकी CockTail Marriage

On

अगली सुबह फिर माइक हमे सिटी टूर के लिए लेने आ गया। सिटी टूर के दौरान एक के बाद एक बहुत ही दिलचस्प बाते मेरे सामने आ रही थीं। सिंगापोर का अपना कोई इतिहास नहीं है। वहां की जनसँख्या में लगभग 72%…

सिंगापुर डायरी-4: बिल्डिंग का ऐसा नजारा देख हंसी छूट गई

सिंगापुर डायरी-4: बिल्डिंग का ऐसा नजारा देख हंसी छूट गई

On

Singapore Travel Diary: होटल के मेरे कमरे में बड़ी सी कांच की खिड़की थी जिससे सामने बना एक रेसिडेंशल अपार्टमेंट दिखता था। वो अपार्टमेंट लगभग 23 मंज़िला था।  सभी घरों में बालकनी थी। सबमे एक खास बात थी। हर घर की बालकनी…

Singapore Diary 3: जब सिंगापुर में हमें दिखा Little India

Singapore Diary 3: जब सिंगापुर में हमें दिखा Little India

On

सिंगापोर में दो ही तरह का मौसम होता है. या तो गर्मी या फिर बारिश। उन दिनों भी वहां का तापमान लगभग 34 -35 डिग्री के आसपास चल रहा था।

Singapore Diary 2: ‘जब पहली बार बोली- मैं इंडिया से आई हूं’

Singapore Diary 2: ‘जब पहली बार बोली- मैं इंडिया से आई हूं’

On

विमान से बाहर निकलते हुए सिंगापोर एयरलाइन्स की विमान परिचारिकाओं ने बड़ी गर्मजोशी से बाय कहा। मुझे उनकी पहनी हुई यूनिफार्म बड़ी पसंद आई।

सिंगापुर डायरी-1: पारुल जैन का ये ब्लॉग आपको भी यात्रा पर ले जाएगा

सिंगापुर डायरी-1: पारुल जैन का ये ब्लॉग आपको भी यात्रा पर ले जाएगा

On

जब भी कभी किसी को विदेश यात्रा पर जाते देखती तो मन में ये कभी नहीं आता था कि मैं भी कभी भारत से बाहर जाऊंगी लेकिन अचानक ही मुझे भी परिवार सहित भारत से बाहर जाने का मौका मिला.

मणि सा मणिपुरः उत्तर पूर्व भारत को इस नजर से आपने देखा क्या?

मणि सा मणिपुरः उत्तर पूर्व भारत को इस नजर से आपने देखा क्या?

On

हमारा भारत अपनी नैसर्गिक ख़ूबसूरती के लिए मशहूर है। फिर चाहे वह कश्मीर 32के पहाड़ हो या केरल के समुन्द्र तट। हमारे देश के उत्तर पूर्वी राज्य भी सुंदरता से भरपूर है। ऐसा ही एक उत्तर पूर्वी राज्य है मणिपुर जहां की प्राकर्तिक सुंदरता निराली है।

%d bloggers like this: