Singapore Diary-6: जब छोले-भटूरे से मिटी हमारी भूख

सेंटोसा में भी शाकाहारी खाने के ऑप्शंस बहुत कम थे। एक रेस्त्रां में वेज पिज़्ज़ा मिल रहा था, जिसे देख कर कुछ राहत मिली। उस छोटे से रेस्त्रां में पिज़्ज़ा बहुत ही बड़े साइज़ का था और लकड़ी के बड़े से गोल पट्टे पर रखा था…