Orchha, Madhya Pradesh: कब जाएं, कैसे पहुंचें और क्या क्या देखें

मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले में बेतवा नदी की बाहों में बसा है ओरछा। स्थित है। ओरछा बुन्देलखण्ड के राजा रूद्र प्रताप सिंह द्वरा सन् 1501 में स्थापित किया गया था। ये झांसी से 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। महाराजा रूद्र प्रताप सिंह ओरछा के पहले शासक थे। ओरछा का मतलब है गुप्त स्थान।

Read more

Kasol Village कैसे पहुंचे? आसपास घूमने के लिए ये हैं BEST PLACES

हिमाचल के मशहूर स्थान कसोल के बारे में आपने जरूर सुना होगा, पार्वती घाटी की गोद में बसा हुआ कसोल हिमाचल प्रदेश का एक छोटा सा लेकिन खूबसूरत पर्यटन स्थल है। बेहद शांत और कुदरती खजानों से भरी ये जगह हिमाचल आने वाले सैलानियों की जुबान पर रहती है। इसकी खूबसूरती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि ये स्थान भारत में विदेशी पर्यटक खासकर इजरायलियों का मुख्य गंतव्य माना जाता है।

Read more

Hauz Khas Village की कहानी: देश का सबसे अमीर गांव, जहां ‘तबेले’ में खुला था पहला बुटीक!

दिल्ली में जब आप Hauz Khas या Green Park मेट्रो स्टेशन से बाहर आएंगे आपको 20-25 ऑटो रिक्शावाले चिल्लाते हुए

Read more

पहाड़ी हाउसः कनातल के इस घर जैसा सुकून 5 स्टार होटलों में भी नहीं!

बचपन में मैं अपनी कल्पनाओं को कागज पर उकेरता था. कभी कभी किए जाने वाले इस अभ्यास में मैं कागज

Read more

Pulwama, Kashmir: केसर की खेती के लिए है मशहूर, इतिहास में बसा है हिंदू धर्म

कश्मीर के दक्षिणी छोड़ पर स्थित जिला पुलवामा (Pulwama) हाल ही में काफी चर्चाओं का विषय बना है। कई सालों

Read more

Chuliya Water Fall in Rajasthan: ये नहीं देखा तो क्या देखा

जब भी ट्रेवलिंग का ज़िक्र होता है तो ज़ेहेन में हमेशा पोप्युलर टूरिस्ट डेस्टिनेशन ही आती हैं. लेकिन विश्व भर में ऐसी कई जगह हैं जो बेहद खूबसूरत हैं लेकिन बहुत कम लोगों को उन जगहों के बारे में पता है.

Read more

Madhya Pradesh Tourism: सागर से 35 किमी दूर हैं ये शैल गुफाएं

मध्य प्रदेश राज्य (भारत) में स्थित सागर दमोह मार्ग पर दर्जनों ऐसी गुफाएं मौजूद है जिनको बहुत कम लोग जानते है। जो आबचंद के घने जंगलों में स्थित हैं।

Read more

मेघालयः एशिया का सबसे स्वच्छ गांव, जो भारत के शहरों को मुंह चिढ़ाता है

मावल्यान्नांग (Mawlynnong) गांव को देखकर आपको गर्व का अहसास होगा. मावल्यान्नांग (Mawlynnong) गांव मेघालय की राजधानी शिलॉन्ग से 90 किलोमीटर दूर है.

Read more

कछुआ से बना है कठुआ! कितना जानते हैं इस शहर के बारे में आप?

कठुआ (Kathua) भारत के जम्मू-कश्मीर में स्थित एक म्युनिसिपल काउंसिल है. देश में लगभग ज्यादातर लोग कठुआ को इसी रूप

Read more