एक गांव हो गया खंडहर में तब्दील, लोग कहते हैं भूतिया गांव

ghost village. जैसलमेर के पश्चिम में 18 किलोमीटर दूर कुलधरा नाम का एक ऐसा गांव है जहां क़रीब दो शताब्दियों से मरघट जैसी शांति है. रात की बात तो दूर दिन में भी कोई अकेला इंसान खंडहर बन चुके घरों में घुसने से डरता है.

Read more

मलूटी : एक ऐसा गांव, जहां किसान ने बनवाए थे 108 मंदिर

Maluti Village- क्या आप जानते हैं की हमारे देश में एक ऐसा भी गांव है जहां घरों से अधिक मंदिर हैं और इन्हें बनवाने वाला कोई सेठ,महाजन या राजा नहीं, बल्कि एक किसान था. मलूटी गांव-भारत एक ऐसा देश है जहां विभिन्न धर्म, संस्कृति और परंपराओं के बीच अनूठा संगम देखने को मिलता है.

Read more

उतराखंड में बसा खिर्सूू घूमने के लिहाज से है बेहद खूबसूरत जगह

Khirsu- खिर्सू एक सुंदर स्थान है जो पौड़ी से 19 किमी. की दूरी पर स्थित है. खिर्सू से मध्य हिमालयीन पर्वत श्रेणियों का सांस रोकने वाला दृश्य देखा जा सकता है. समुद्र सतह से 1700 मीटर की ऊंचाई पर स्थित शहर की हलचल से दूर खिर्सू एक सुरम्य स्थान है. यहां के शांत वातावरण में पक्षियों की चहचहाहट गूंजती है और यह स्थान ओक और देवदार के वृक्षों से ढंका हुआ है.

Read more

पर्यटकों के लिए खुल गया है Uttarakhand, सरकार ने पाबंदियों को किया ख़त्म

उत्तराखंड ( Uttarakhand Tours ) के पर्यटकों के लिए अच्छी ख़बर आई है. तो अब अगर आप उत्तराखंड ( Uttarakhand Tours ) घूमने की योजना बना रहे हैं, तो खुश हो जाइए क्योंकि उत्तराखंड (Uttarakhand) में पर्यटकों के लिए कोरोना के चलते लगाई गयी पाबंदियां को ख़त्म कर दिया गया है.

Read more

Best Travel Places in India – घूमें ये 21 जगहें, मिलेगी भारी छूट

Best Travel Places in India – सितंबर-अक्टूबर का महीना मानसून के जाने का समय और शरद ऋतु के आने का प्रतीक है. यह मौसम सुहावना होता है, न तो बहुत गर्म और न ही बहुत ठंडी.

Read more

पहाड़ का कड़वा सचः उत्तराखंड में कैसे रुकेगा पलायन?

पहाड़ का पानी और पहाड़ की जवानी पहाड़ के कभी काम नहीं आते. Uttarakhand Migration ऐसी कहावतें सालों से सुनते पढ़ते हम भी जवान हो चुके हैं. रोजगार न होने की वजह से पहाड़ों से भारी संख्या में पलायन होता रहता है.

Read more

उत्तराखंड में इस गांव को क्यों कहते हैं पनीर वाला गांव?

paneer village – उत्तराखंड के लोगों का पशुपालन मुख्य व्यवसाय है. दूध उसमें सबसे अधिक महत्व रखता है. पहले लोग दूध और दूध से बना चीजों का व्यपार करते थे. पहले लोग पनीर के बारे कम जानते थे, लेकिन आज गांव-गांव में लोगों की रसोई में पनीर के अहम पकवान है.

Read more

यूपी में है दामादों का गांव, जहां लड़की नहीं दामाद किए जाते हैं विदा

आज भी देश के अधिकतर हिस्सों में लड़कियां शादी के बाद ससुराल चली जाती हैं. ये रिवाज़ कई सालों से चलता आ रहा है. शादी करके लड़की अपनी सारी ज़िंदगी अपने ससुराल में बिताती है. वहीं हमारे देश का एक कोना ऐसा भी है जहां शादी के बाद लड़की ससुराल नहीं जाती, बल्कि दामाद लड़की के घर जाकर बस जाते हैं.

Read more

Damdama Lake – मानेसर में एक परफेक्ट फैमिली हॉलिडे डेस्टिनेशन

Damdama Lake – गुड़गांव से लगभग 24 किमी की दूरी पर, चट्टानी अरावली पहाड़ियों से घिरा, खूबसूरती से भरा दमदमा झील शहर के जीवन की हलचल के बीच शांति का नजारा है. यह उन पर्यटकों के लिए एक पफेक्ट जगह है जो एक दिन के लिए कही शांत स्थान की तलाश कर रहा हो.

Read more

कहां है महाभारत काल का लाक्षागृह, जहां दुर्योधन-शकुनी ने रची थी पांडवों को मारने की साजिश

Lakshagrah of Mahabharat – शकुनी की नीति के तहत दुर्योधन ने पांडवों के रुकने के लिए एक ऐसा महल बनवाया था, जो लाख से बना था जिसे बाद में लाक्षागृह कहा गया. यह लाख तेजी से आग पकड़ता है. दुर्योधन ने पांडवों को मारने की साजिश रची थी. इस महल में रात में चुपचाप से आग लगा दी गई थी

Read more