Monday, October 2, 2023
Interesting Travel FactsTeerth Yatra

Nagarvadhu Dance at Manikarnika Ghat : मणिकर्णिका घाट पर चिताओं के बीच क्यों नाचती हैं Sex Workers?

Nagarvadhu Dance at Manikarnika Ghat : श्मशान चाहे जहां भी हो, आपको वहां केवल वही लोग मिलेंगे जो अपने किसी प्रियजन के खोने का शोक मना रहे होते हैं लेकिन बनारस के मणिकर्णिका घाट, (Manikarnika Ghat) जहां चिताओं की रोशनी कभी बुझती नहीं है, वहां की एक अजीब परंपरा है. चैत्र नवरात्रि के दौरान सप्तमी (चंद्रमा की सातवीं रात) पर सेक्स वर्कर पूरी रात चिताओं के बीच नृत्य करती हैं.

इन सेक्स वर्कर्स ( sex workers ) का ये डांस कोई सेलिब्रेशन नहीं है. बल्कि यह महाश्मशान बाबा के समक्ष तपस्या का काम है. स्थानीय लोगों का मानना ​​है कि ऐसा करने से वेश्याओं को अगले जन्म में सम्मान और खुशी मिलेगी. मणिकर्णिका घाट, एक ऐसा स्थान जहां भगवान शिव ने एक बार सती से अलग होने पर तांडव (विनाश का नृत्य) किया था, यहां सप्तमी पर नाचने वाली वेश्याओं का जमावड़ा देखा जाता है.

Tent City Varanasi: वाराणसी की टेंट सिटी में क्या है खास? कैसी हैं सुविधाएं… ठहरने का किराया भी जानिए

यह व्यू किसी को भी अजीब लगेगा. जहां एक ओर अपनों के खोने का शोक मना रहे लोग थे, वहीं दूसरी ओर मंच पर नाचती हुई वेश्याएं थीं. यह अजीब जरूर है, लेकिन केवल उनके लिए जो परंपरा से अपरिचित हैं. वास्तव में, अलंकृत वेश्याओं को उन लोगों की तुलना में बहुत अधिक दर्द होता है जो अपने प्रियजनों का अंतिम संस्कार करने के लिए वहां होते हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि वे पूरी रात महाश्मशान बाबा के सामने नृत्य करते हैं ताकि उन्हें अगले जन्म में इस भाग्य का सामना न करना पड़े. वे इसे तपस्या, तपस्या कहते हैं.

MV Ganga Vilas : गंगा की लहरों पर चल पड़ा सबसे लंबा रिवर क्रूज, राजसी ठाठ से किराये तक की पूरी जानकारी

इस कार्यक्रम में आए बनारस के पिंटू किन्नर ने कहा कि भले ही उन्हें मंच पर जाने की अनुमति नहीं थी, फिर भी उन्होंने पूरी रात बाबा की सेवा में बिताई, इस उम्मीद में कि वह उन्हें आशीर्वाद देंगे और उनका यह हश्र नहीं होगा अगला जीवन में. यह हर साल चैत्र नवरात्रि के दौरान, पंचमी से सप्तमी/अष्टमी तक होती है.

Komal Mishra

मैं हूं कोमल... Travel Junoon पर हम अक्षरों से घुमक्कड़ी का रंग जमाते हैं... यानी घुमक्कड़ी अनलिमिटेड टाइप की... हम कुछ किस्से कहते हैं, थोड़ी कहानियां बताते हैं... Travel Junoon पर हमें पढ़िए भी और Facebook पेज-Youtube चैनल से जुड़िए भी... दोस्तों, फॉलो और सब्सक्राइब जरूर करें...

error: Content is protected !!