Singapore Diary-10: जब सिंगापुर में सुनाई दिया ‘नमो-नमो’

अगले दिन फिर सुबह सन राइज देखने के लालच में जल्दी उठ गयी लेकिन आज आसमान में काले बादल उमड़ घुमड़ रहे थे और सूरज के दर्शन होने मुश्किल थे।

Read more

Singapore Diary-9: क्रूज के सफर ने ‘टाइटैनिक’ की याद दिला दी

क्रूज पर जाते ही हवाई ज़हाज़ की तरह क्रूज के अधिकारिओं ने सभी का अभिवादन किया और हमें रूम तक जाने के लिए निर्देशित किया। क्रूज पर कुल 12 डेक (फ्लोर) थे और मेरा कमरा सातवें डेक पर था। कमरा बहुत ही सुन्दर था।

Read more

Singapore Diary-7: 80 रुपये में मिल रहे थे भिंडी के 14 पैकेट्स

सिंगापोर में आज हमारा चौथा दिन था। आज सोचा, क्यों न सिंगापोर का बाजार देख लिया जाए। होटल से पता चला कि यहाँ चाइना टाउन नाम से एक बाजार है पर यहाँ से थोड़ा दूर है।

Read more

Singapore Diary-6: जब छोले-भटूरे से मिटी हमारी भूख

सेंटोसा में भी शाकाहारी खाने के ऑप्शंस बहुत कम थे। एक रेस्त्रां में वेज पिज़्ज़ा मिल रहा था, जिसे देख कर कुछ राहत मिली। उस छोटे से रेस्त्रां में पिज़्ज़ा बहुत ही बड़े साइज़ का था और लकड़ी के बड़े से गोल पट्टे पर रखा था…

Read more

सिंगापुर डायरी-4: बिल्डिंग का ऐसा नजारा देख हंसी छूट गई

Singapore Travel Diary: होटल के मेरे कमरे में बड़ी सी कांच की खिड़की थी जिससे सामने बना एक रेसिडेंशल अपार्टमेंट

Read more