https://business.facebook.com/settings/security/business_verification?business_id=361906945015389

Single हैं तो TRAVEL ही नहीं LIFE में भी मिलेंगे ये फायदे

अगर आप सिंगल है और सोचते हैं कि क्या यार मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और किसी कपल को देख कर जलन होने लगती है। तो जरा रुकिए और ये आर्टिकल पढ़िए। इसे पढ़ने के बाद कोई लड़का अपने सिंगल होने पर पछतावा नहीं करेगा और हो सकता है कि हम इस आर्टिकल से किसी का ब्रेकअप भी करवा दें। तो उसके लिए हम पहले से ही खेद प्रकट करते हैं। लेकिन सिंगल लड़कों के लिए भी एक लेख तो बनता है। तो अपने इस आर्टिकल में हम लड़कों को बताने वाले हैं कि अगर आपके पास गर्लफ्रेंड नहीं है तो निराश मत होना क्योंकि उसके भी फायदे हैं तो चलिए सीधा जानते हैं कि गर्लफ्रेंड ना होने के क्या फायदे हैं।

हां एक बात और ये फायदे बॉयफ्रेंड ना होने के भी हो सकते हैं तो लड़कियां भी इसे जरूर पढ़ें।

मन के हिसाब से सो कर उठूंगा

जी हां क्योंकि आपके पास गर्लफ्रेंड नहीं है तो आपको किसी को दिखाने के लिए तैयार नहीं होना है। और कोई आपको सुबह कॉल करके उठाएगा भी नहीं, वो अलग बात है कि मम्मी की मार से आप फिर भी नहीं बच पाओगे लेकिन अगर परिवार से दूर रहते हो तो आपका सनडे मस्त सोकर गुजरेगा। जब तक मन करें तब तक सोइए और आराम से उठ कर नाश्‍ता कर दिनभर का प्‍लान बना सकते हैं।

आजादी आपको सिर्फ संविधान में ही नहीं बल्कि असल में भी मिलेगी

गर्लफ्रेंड न होने का दूसरा फायदा है कि आप किसी के साथ भी घूम-फिर सकते हैं। आपका जब दिल करे आप अपने दोस्तों के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं, बॉयज नाइटआउट कर सकते हैं। आपको किसी को कुछ भी जवाब देने की जरूरत नहीं होती है। कोई आप पर शक नहीं करेगा, कोई सवाल नहीं होंगे कि कहां गए थे, किसके साथ गए थे, क्‍यों गए थे, कितनी देर के लिए गए थे। क्‍योंकि आप तो सिंगल हो और आजाद भी।

https://www.traveljunoon.com/interesting-travel-facts/myth-about-thailand-bangkok-pattaya/

झोला उठाया और निकल पड़े

करियर की वजह से अपना शहर बदलना हो या फिर घूमने के लिए निकलना, तो ऐसे में अगर आप सिंगल हैं तो फैसला चुटकियों में ले लेंगे। लेकिन अगर आपका पार्टनर होगा तो आपको बहुत सारा विचार-विमर्श करना होगा और हो सकता है कि आपके दोस्त अकेले ही बीच के किनारे बैठ कर मजे मार रहे हो और आप घर पर ही रह जाएं।

कोई भी आपका हो सकता है

क्योंकि आप सिंगल हैं आपकी जिन्दगी में कोई ऐसा नहीं है जो आपको ये बताये कि इससे बात करो और उससे नहीं। ना तो कोई ये पूछने वाला है कि उससे बात क्‍यों कि आप जिससे चाहे और जितनी बात कर सकते हैं। साथ ही सोच समझ कर अपने लिए पार्टनर चुनने का भी वक्त मिलता है क्‍योंकि आप को अप्रोच करने वाली हर लड़की को समझने के लिए आपके पास अच्छा मौका है। आप एक सिंगल हैं और कोई भी आपकी हो सकती है। साथ में किसी के साथ फ्लर्ट करते वक्त आपको जरा भी बुरा नहीं लगेगा। ना ही जिससे फ्लर्ट करेंगे वो बुरा मानेगा। अकेले हैं तो जब चाहे, जिससे चाहे फ्लर्ट करें।

https://www.traveljunoon.com/interesting-travel-facts/india-tribes-travel-blog-hidden-himalayan-tribe-secret-of-wife-swapping/

अपनी मर्जी के स्टाइल में रहें

सिंगल होने का सबसे बड़ा फायदा होता है कि कोई आपको कपड़ों, दाड़ी इन सब चीजों के लिए टोकने वाला नहीं होता है। कोई आपको ऐसा नहीं बोलेगा कि हर वक्त ब्‍लू क्यों पहनते हो। तुम शेव क्‍यों नहीं करते हो या बाल क्यों लंबे किए हैं। आप जिस स्‍टाइल में चाहें रह सकते हैं कोई भी आपको नहीं टोकेगा।

फोन टेंशन नहीं बनेगा

इसे भी हम गर्लफ्रेंड ना होने का एक फायदा कह सकते है। क्योंकि अगर आप सिंगल है तो देर रात तक फोन पर बात करने की मजबूरी नहीं होगी और ना आधी रात को अचानक आए फोन से नींद खराब होने का डर रहेगा। ना तो घंटों उसके फोन के इंतजार में बोर होने की टेंशन होगी।

अकेले रहे पतले रहे

ब्रिटेन में एक रिसर्च हुई है जिसमें पता चला कि सिंगल से कमिटेड होने के बाद 62 फीसदी लोगों का वजन 7 किलो तक बढ़ा है। वजन बढ़ने का डेटिंग से सीधा ताल्लुक है। क्योंकि अगर आप अकेले रहते हैं तो एक्सरसाइज भी ज्यादा करते हैं।

गिफ्ट का कोई झमेला नहीं

आपके बैंक अकाउंट में पड़े पैसे बस आपके हैं और जो लेना है वो आपको अपने लिए ही लेना है क्‍योंकि गर्लफ्रेंड होगी तो उसके लिए गिफ्ट खरीदना होगा। जब वो है ही नहीं तो किस बात की टेंशन। लंच डेट और डिनर डैट से बचे हैं साथ में वैलेंटाइन वीक में भी गिफ्ट नहीं खरीदना पड़ेगा।

यारी दोस्‍ती और पार्टी

अगर आप बोर हो गए है तो किसने रोका है सारे दोस्तों से मिलिए, एक ब्‍वॉयज नाइट आउट या वीकेंड आउटिंग प्‍लान कर लें। आप अपनी मर्जी के मालिक हैं गर्लफ्रेंड को मनाने की जरूरत नहीं है या फिर ऑफिस के काम का बहाना मारना भी नहीं है।

दर्द ओ गम से आजादी

टूटने, छूटने का दर्द सिंगल लोगों के लिए बना ही नहीं है। किसी पार्टनर के साथ होने पर आप छोड़े जाने के डर में आ जाते हैं। अकेले हैं तो कोई छोड़कर ही नहीं जा पाएगा। वहीं अगर आप किसी के साथ ज्यादा प्यार में पड़ गए और वो छोड़ कर चला गया तो बस आप बन जाएंगे देवदास और पारो के गम में महीनों फेसबुक, सोशल मीडिया से दूर भाग जाएंगे। हो सकता है शायरी ना लिखने लग जाएं (वैसे ये अच्छा है पर दिल तोड़ कर नहीं)। तो इन सबसे बचने के लिए अच्छा है कि भईया सिंगल ही रहो।

उम्मीदों का कोई बोझ नहीं

बहुत कम लोग ही सोच पाते हैं कि रिश्तों को निभाने के लिए कितना वक्त और एनर्जी लगानी पड़ती है। हर रिश्ते की जरूरतें होती हैं, सामने वाले की आपसे कुछ इच्छाएं होती है वो कुछ उम्मीदें करता है। उन उम्मीदों पर खरा उतरना तलवार की धार पर चलने की तरह होता है।

फुल सेविंग

आप जो आज सेविंग करोगे वो कल के लिए तैयार होगा। अगर आज आपके पास गर्लफ्रेंड नहीं है तो जम कर सेविंग कर लो ताकि बाद में सैटल होने पर आप जिंदगी का पूरा मजा ले सकें। साथ ही जिम्‍मेदारी निभाने के लिए भी तैयार हो सकें।

नोटः इस आर्टिकल को हमारे पाठक सिर्फ हल्के फुल्के अंदाज में लें 😀

Taranjeet Sikka

एक लेखक, पत्रकार, वक्ता, कलाकार, जो चाहे बुला लें।