Chirmiri Hill Station : यहां पक्षियों की 150 से भी ज़्यादा प्रजातियां देखने को मिलती हैं

Chirmiri Hill Station : छत्तीसगढ़ का चिरमिरी हिल स्टेशन पर्यटकों की पसंदीदा लिस्ट में शामिल है। यहां के बड़े-बड़े पहाड़, सुहावना मौसम और घने जंगल इस हिल स्टेशन की खूबसूरती में चार-चाँद लगाते हैं। बरसात के दिनों में यहां की सुंदरता अपने चरम पर होती है।

क्यों आयें चिरमिरी हिल स्टेशन ( Why visit Chirmiri Hill Station )

चिरमिरी छत्तीसगढ़ राज्य का एक खूबसूरत हिल स्टेशन है। चिरिमिरी कोरिया जिले में बसा है। ये पहले ब्रिटिश साम्राज्य का हिस्सा हुआ करता था। चिरमिरी अपने हरे-भरे परिदृश्य, पहाड़ों, हरियाली, घने पेड़ पौधौं और अपने मनमोहक और शांत वातावरण के लिए जाना जाता है। ये पर्यटन स्थल वहां स्थित हसदो नदी के पास है, जो महानदी की एक सहायक नदी भी है। यहां आने की पहली वजह है यहां के पहाड़ और पर्वतीय स्थल। चिरमिरी में आपको बेहद शानदार वातावरण देखने को मिलेगा। आप यहां अपने परिवार और दोस्तों के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड कर सकते हैं। ये ट्रिप आपके लिए हमेशा यादगार रहेगी। प्रकृति प्रेमियों के लिए ये जगह बेहद खास है। अगर आप फोटोग्राफी का शौक रखते हैं तो ये जगह आपके लिए है। इसके अलावा यहां आपको कई धार्मिक स्थल भी देखने को मिलेंगें। यहां के आसपास प्रसिद्ध मंदिरों की सैर का प्लान बना सकते हैं।

Puducherry Travel Guide : India में देखना चाहते हैं French Culture, तो निकल चलिए Pondicherry

छत्तीसगढ़ स्थित दंतेवाड़ा

दंतेवाड़ा मध्य प्रदेश से छत्तीसगढ़ के गठन के बाद, 1998 में अस्तित्व में आया था। ये बस्तर जिले में स्थित है। दंतेवाड़ा के विचित्र छोटे शहर में नदियाँ, शानदार पहाड़ी चोटियाँ, घने जंगल और हरे-भरे घास के मैदानों के शानदार दृश्य आपको देखने को मिल जायेगें। ऐतिहासिक रूप से, इस शहर का नाम शक्ति के अवतार देवता दंतेश्वरी के नाम पर रखा गया था। दंतेवाड़ा में आपको पहाड़ों से लेकर नदियों तक सभी प्राकृतिक तत्वों का लुत्फ उठाने का मौका मिलेगा। यहां प्रकृति के बीच आप अपना वक़्त आराम से गुज़ार सकते हैं।

अचानकमार टाइगर रिजर्व पर्यटकों के बीच आकर्षण का केंद्र ( Achanakmar Wildlife Sanctuary A Center Of Attraction Among Tourists )

साल 2009 में प्रोजेक्ट टाइगर के तहत अचानकमार टाइगर रिजर्व को टाइगर रिज़र्व घोषित किया गया था। ये रिज़र्व लगभग 557Sq किलोमीटर से अधिक एरिया में फैला हुआ है। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में स्थित ये रिज़र्व बाघों का एक प्रभावशाली घर है। यहां आपको बाघ देखने को मिल जायेंगें। छत्तीसगढ़ की यात्रा के दौरान अचानकमार बाघ अभ्यारण्य का दौरा करना एक रोमांचक अनुभव से कम नहीं होगा। इस रिज़र्व में सैलानियों को बाघ के अलावा, विशाल गिलहरी, जंगली कुत्ते, लकड़बग्घा, तेंदुआ के साथ ही साथ अन्य जानवर भी देखने को मिलेंगें। अचानकमार टाइगर रिजर्व में पक्षियों की 150 से अधिक प्रजातियों देखने को मिलेंगीं। छत्तीसगढ़ में यात्रा के दौरान यहां आना एक पर्यटकों के लिए अद्भुत अनुभव हो सकता है।

Sonbhadra Travel Guide : Sonbhadra के शिव द्वार मंदिर में स्थापित काले पत्‍थर से बनी शिव और पार्वती की दुर्लभ मूर्ति

चिरमिरी हिल स्टेशन में स्थित अन्य पर्यटन स्थल ( Other tourist places located in Chirmiri Hill Station )

चिरमिरी में आपके प्राकृतिक आकर्षणों के अलावा यहां और भी मनमोहक स्थलों की सैर का प्लान बना सकते हैं। चिरमिरी में आप भगवान जगन्नाथ मंदिर के दर्शन भी कर सकते हैं। इस मंदिर का निर्माण ओडिशा के जगन्नाथ मंदिर की तरह ही किया गया है।  इसके अलावा आप यहां पर स्थित गुफा मंदिर, कालीबाड़ी, हसदो नदी, बैगापारा आदि स्थलों की सैर भी कर सकते हैं।

कब करें चिरमिरी हिल स्टेशन की यात्रा ( When to visit Chirmiri Hill Station )

वैसे तो चिरमिरी की यात्रा आप कभी भी कर सकते हैं। लेकिन मानसून के बाद का नजारा बहुत ही खूबसूरत और देखने लायक होता है। यहां का मौसम अक्टूबर से अप्रैल के बीच काफी सुहावना रहता है। चिरमिरी में आप सर्दी, गर्मी से दूर इस खूबसूरत हिल स्टेशन पर जाकर मजे कर सकते हैं।

कैसे जाएं चिरमिरी हिल स्टेशन ( How to visit Chirmiri  Hill Station )

चिरिमिरी में एक बहुत ही छोटा रेलवे स्टेशन है लेकिन ये बिलासपुर रेलवे जंक्शन से लगभग सभी बड़े शहरों से जुड़ा हुआ है। अगर आप सड़कमार्ग से यहां जाने की प्लानिंग कर रहे हैं तो बिलासपुर से चिरिमिरी की दूरी लगभग 238 किमी है और भोपाल से लगभग 654 किमी है।

दोस्तों, आप भी Travel Junoon के संग जुड़ सकते हैं और अपने लेख हजारों लोगों तक अपनी तस्वीर के साथ पहुंचा सकते हैं. आप अपना लिखा कोई भी Travel Blog, Travel Story हमें भेजें – GoTravelJunoon@gmail.com पर. हम उसे आपकी तस्वीर के साथ वेबसाइट पर अपलोड करेंगे.

Anchal Shukla

मैं आँचल शुक्ला कानपुर में पली बढ़ी हूं। AKTU लखनऊ से 2018 में MBA की पढ़ाई पूरी की। लिखना मेरी आदतों में वैसी शामिल है। वैसे तो जीवन के लिए पैसा महत्वपूर्ण है लेकिन खुद्दारी और ईमानदारी से बढ़कर नहीं। वो क्या है किमैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हें याद रखती हूँ,मैं बातें भूल भी जाऊं तो लहज़े याद रखती हूँ,ज़रा सा हट के चलती हूँ ज़माने की रवायत से,जो सहारा देते हैं वो कंधे हमेशा याद रखती हूँ।कुछ पंक्तिया जो दिल के बेहद करीब हैं।"कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोयेऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये"

error: Content is protected !!