क्या आप मेघालय में रहस्यमयी सिजू गुफा के बारे में जानते हैं?

Siju Cave: सिजु गुफा जिसे स्थानीय लोग ‘डोबाखोल ‘ के नाम से जानते हैं, नेशनल हाईवे 217 से 5 किमी दूर है, अपर सिजु और लोअर सिजु गांव  के बीच, सोमेश्वरी नदी के तट पर स्थित है. डोबाखोल का गारो भाषा में अर्थ है- चमगादड़ों की गुफा. मुख्य मार्ग (एनएच 217) से गुफा को जोड़ने वाली एक सड़क, मेघालय के पहले मुख्यमंत्री कैप्टन विलियमसन संगमा की आदमकद प्रतिमा तक जाकर समाप्त हो जाती है.

Janaki Setu: टिहरी और पौड़ी जिले को जोड़ने वाले जानकी सेतु का सीएम ने किया उद्घाटन

इसी प्रतिमा से सटी हुई सीढ़ियां गुफा के प्रवेश द्वार की ओर ले जाती  हैं. गुफा का मुख सोमेश्वरी नदी के दाहिने किनारे पर स्थित है. यह नदी से 25 मीटर ऊंचाई पर है, इसका मुख एक चट्टान (क्लिफ) पर है. मुख-द्वार तकरीबन 30 फीट चौड़ा और 22 फीट ऊंचा है और इसके ऊपर पहाड़ से रिस-रिसकर पानी गिरता रहता है, इससे सीढ़ियां फिसलन भरी है.

गुफा के अंदर से एक जलधारा बाहर की ओर आ जातीहै. गर्मियों में इसका जल स्तर घटकर 2-3 फीट रह जाता है. यह धारा आगे सोमेश्वरी नदी में मिल जाती है यह चूना पत्थर की गुफा भारत की तीसरी सबसे लंबी गुफा है. गुफा गारो पहाड़ियों में स्थित है और इसे दाबोखोल कहा जाता है, जिसका अर्थ है स्थानीय बोली में चमगादड़ों का घर. अंदर शानदार चूना पत्थर की चट्टानें हैं

स्थानीय लोगों द्वारा बनाया गया भोजन का ले स्वाद

स्थानीय लोगों द्वारा खाने का आप मजा यहां ले सकते हैं. यहां के लोग मांसाहारी खाना बहुत स्वादिष्ट बनाते हैं. कुत्ते, बिल्ली और बाघ का मांस  वह लोग बहुत स्वाद से बनाते हैं. जो यहां आने वाले सैलानी बहुत चाव से खाते हैं.

भारत में 5 ऐसी जगहें, जहां कम खर्च में कर सकते हैं जी भर के घुमक्कड़ी

गुफा के भीतर भूलभुलैया का आनंद लेते हुए स्थानीय लोगों की सहायता लेने की सलाह दी जाती है. आप पास के तुरा पीक भी जा सकते हैं, जो समुद्र तल से 872 मीटर ऊपर एक जंगल आरक्षित है. तुरा में आवास उपलब्ध है, और गुफाएं सड़क मार्ग से सुलभ हैं. गुवाहाटी के रास्ते आप तुरा पहुंच सकते हैं.  सिजू गुफाओं की यात्रा का सबसे अच्छा समय वर्ष की शुरुआत में है, और इस पहाड़ी राज्य में मानसून के महीनों से बचा जा सकता है.

सिजु गुफा बांग्लादेश के सीमावर्ती जिले साउथ गारो हिल जिले में आती है. यह क्षेत्र विकास की दृष्टि से बेहद पिछड़ा है. सड़क, मोबाइल नेटवर्क, चिकित्सा आदि मौलिक सुविधाओं का काफी अभाव है.

Penis Park – एक ऐसा पार्क जहां हर जगह दिखती है पुरुषों के प्राइवेट पार्ट की मूर्ति

How to reach Siju?

सिजु सड़क मार्ग से गुवाहाटी (218 किम)और  शिलांग (250 किमी) से जुड़ा हुआ है. सिजु साउथ गारो हिल जिले के अंदर आता है. यह जिले मुख्यालय बाघमारा से 35 कि॰मी॰ है. विलियम नगर से 52 किमी है.

Where to stay?

यहां फॉरेस्ट गेस्ट हाउस है.  जहां पर आप रह सकते हैं.

Right time to go to Siju?

सितंबर से फरवरी सबसे उपयुक्त समय  होता है सूजी गुफा जाने के लिए.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे