Vishnu Temple: पाकिस्तान के इस जगह मिला भगवान विष्णु का 1300 साल पुराना मंदिर

 Vishnu Temple: 1,300 साल पहले बने एक हिंदू मंदिर की खोज पाकिस्तानी और इतालवी पुरातात्विक विशेषज्ञों ने उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के स्वात जिले के एक पहाड़ पर की है. बारिकोट घुंडई में खुदाई के दौरान इस मंदिर का पता लगा. Vishnu Temple खैबर पख्तूनख्वा के पुरातत्व विभाग के फजले खलीक ने खोज की घोषणा करते हुए बताया कि यह मंदिर भगवान विष्णु का है.

पुरातत्व विभाग के फजले खलीक ने बताया कि यह मंदिर 1300 साल पहले हिंदू शाही काल के दौरान बनाया गया था. हिंदू शाही या काबुल शाही (850-1026 ई) एक हिंदू राजवंश था जिसने काबुल घाटी (पूर्वी अफगानिस्तान), गंधार (आधुनिक पाकिस्तान) और वर्तमान उत्तर पश्चिम भारत में शासन किया था.

दुनिया के सबसे बड़े इस्लामिक देश Indonesia में हैं ये 10 हिन्दू मंदिर

बताया गया कि खुदाई के दौरान, पुरातत्वविदों को मंदिर स्थल के पास छावनी और जहां पहरेदार रहते थे, उसे मिलते निशान भी मिले. विशेषज्ञों को मंदिर के पास एक पानी का कुंड भी मिला, जो कि बताया जा रहा है कि वहां हिंदुओं द्वारा पूजा से पहले स्नान किया जाता था.
खलीक ने कहा कि स्वात जिला हजार साल पुराने पुरातत्व स्थलों का घर है और इलाके में पहली बार हिंदू शाही काल के निशान पाए गए हैं. इटली के पुरातत्व मिशन के प्रमुख डॉ लुका ने कहा कि स्वात जिले में मिला गंधार सभ्यता का यह पहला मंदिर है. स्वात जिला पाकिस्तान के शीर्ष 20 स्थलों में से है जो प्राकृतिक सुंदरता, धार्मिक पर्यटन, सांस्कृतिक पर्यटन और पुरातात्विक स्थलों जैसे हर तरह के पर्यटन का घर है. स्वात जिले में बौद्ध धर्म के भी कई पूजा स्थल स्थित हैं.

माउंट आबू जाएं तो Dilwara Jain Temple जरूर घूमें, इसकी बनावट है बहुत भव्य

Hindu Shahi or Kabul Shahi ruled

हिंदू शाही या काबुल शाही (Hindu Shahis or Kabul Shahis) (850-1026 ई) एक हिंदू राजवंश था, जिसने काबुल घाटी (पूर्वी अफगानिस्तान), गंधार (आधुनिक पाकिस्तान) और वर्तमान उत्तर पश्चिम भारत में शासन किया था.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे