Delhi की टॉप 10 डिशेज़, जिन्हें देखते ही आ जाएगा मुंह में पानी

Delhi top 10 dishes – अगर आप एक दिल्लीवासी से पूछते हैं कि क्या हैं वो दो चीजें, जो वास्तव में उनके शहर की पहचान बनाती हैं. तो नाम आएगा यहां के इतिहास का और मुंह में पानी ले आने वाले स्वादिष्ट पकवान का. यहां हर किसी के अंदर खाने को लेकर दीवानगी देखने को मिलती है. दिल्ली Delhi ऐसा शहर है, जो व्यंजनों की समृद्ध विविधता प्रदान करता है. दिल्ली Delhi की संस्कृति और यहां का खान पान इसे अलग पहचान देता है. चांदनी चौक से मजनू का टीला तक, दिल्ली कई स्वादिष्ट व्यंजनों से परिपूर्ण है. तो आज हम आपको दिल्ली Delhi  की टॉप 10 डिशेज़ की लिस्ट के बारे में बताने जा रहे हैं.

Parantha in Delhi

ज्यादातर दिल्ली के घरों में हेल्थी मॉर्निंग की शुरुआत परांठे से होती है. कॉलेज के लिए भोजन ले जाने से देर रात तक के लिए हर थाली में आपको परांठा ज़रूर मिलेगा. ये लोगों की पसंदीदा डिश में सबसे टॉप पर है. सादे परांठे से लेकर अपनी पसंद के अनुसार आप इसमें आलू, फूलगोभी, मूली, कीमा, या यहां तक ​​की दाल भी स्टफिंग के तौर पर भर सकते हैं.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं? आप इसे चांदनी चौक में परांठे वाली गली. जिसके पिछले ग्राहकों में कश्मीर के महाराज और यहां तक ​​कि प्रधानमंत्री नेहरू और उनके परिवार की पसंद भी शामिल है. शाहरुख़ खान जब दिल्ली में रहा करते थे. तब दक्षिणी दिल्ली में स्थित मूलचंद के पराठे उनके पसंदीदा हुआ करता था.

Indian Railway जल्द बंद करने जा रहा है 500 ट्रेनें और 10,000 स्टॉपेज

Delhi Chaat

अगर एक ऐसी डिश जो दिल्ली के खाने को स्ट्रीट फूड से जोड़कर रखती है. जो की सच में बेजोड़ है. दिल्ली Delhi की सड़कों पर खाना वहां के इतिहास और संस्कृति में एक क्रैश कोर्स है. चांदनी चौक सच में दिल्ली का स्ट्रीट फूड कैपिटल है. और जबकि कोई बिना गाइड के ही दिल्ली की चाट को सबसे अच्छी जगहों के लिए बात सकता है. यहां पर कुछ बहुत पुराने फूड के अड्डे भी हैं जो वास्तव में आज भी अपने स्वाद के लिए जाने जाते हैं. अगर आप बहुत लंबा सफर नहीं करना चाहते हैं, तो दिल्ली में स्ट्रीट फूड के कई ऑप्शन मिल जाएंगे.

ये डिश आप कहाँ ट्राई कर सकते हैं ?

इसके लिए आपको यूपीएससी भवन, शाहजहाँ रोड; बिट्टू टिक्की वाला, करोल बाग; दौलत की चाट, चांदनी चौक; नटराज दही भल्ले वाला, चांदनी चौक जाना होगा.

Tandoori Chicken

इस ग्रह पर सबसे अधिक संतुष्टिदायक व्यंजनों में से एक व्यंजन जिसके बारे में एक दिलचस्प कहानी है. इसकी शुरुआत 1950 के दशक में मोती महल, दरियागंज में की गई थी. ये अपने तंदूरी चिकन के लिए जाना जाता है. वहां के रसोइयों ने गलती से तंदूरी चिकन के टुकड़ों के साथ मक्खन, टमाटर और चिकन के सॉस को एक साथ मिलाकर ये डिश तैयार कर दी. तब से बाकी सब इतिहास है. आज, यह व्यंजन लगभग हर मांसाहारी रेस्तरां और राजमार्ग ढाबों में खाने को मिल जाता है. तंदूरी चिकन को चावल या नान के साथ खाने में सबसे ज़्यादा पसंद किया जाता है.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं?

इसके लिए आपको मोती महल, दरियागंज; हैवमोर, पंडारा रोड जाना होगा.

 

Kashi Vishwanath Corridor की खुदाई में मिले 16वीं शताब्दी के अवशेष

 

Kabab

दिल्लीवासियों को मुगलों के कई व्यंजनों के लिए आभारी होना चाहिए. उनमें से ही एक है कबाब. चाहे ये आपकी कार में, खाने पीने के स्टॉल में या फिर किसी बढ़िया डाइनिंग रेस्तरां में परोसा जाए. आप अपनी उंगलियां चाटते रह जाएंगे. यहां के कबाब में आपको एक अलग ही स्वाद मिलेगा. जिसे आप एक बार नहीं बार-बार खाना पसंद करेंगे.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं?

अलककोरी अलकौसर, आर के पुरम; उस्ताद मोइनुद्दीन कबाब, लाल कुआँ; ग़ालिब कबाब कॉर्नर, निज़ामुद्दीन; सलीम के कबाब, खान मार्केट; आप की खातिर, एस.डी.ए.

 

Chole – Bhature

अगर आप खाली पेट इस व्यंजन का आनंद लेते हैं तो इसके हर एक कौर में आपको स्वाद मिलेगा. हम बात कर रहे हैं स्वादिष्ट और मसालेदार छोले-भटूरों की. यह सबसे लोकप्रिय पंजाबी व्यंजनों में से एक है. और निश्चित रूप से ये दिल्ली Delhi की टॉप 10 की लिस्ट में शामिल है. अगर आप इसे राजधानी के रेस्तरां के ब्रेकफास्ट के मेनू पर पाते हैं तो चौकने की ज़रूरत नही है. इस डिश को लेकर दिल्लीवालों के बीच लोकप्रियता को देखते हुए, ये डिश दिल्ली Delhi में आपको हर जगह खाने को मिल जाएगी फिर चाहे वो रेस्तरां हों, फ़ूड स्टॉल हो या कोई फाइव स्टार होटल. लोग इस डिश को आमतौर पर लोग लस्सी के साथ एंजॉय करते हैं.

आप इस डिश को कहाँ ट्राई कर सकते हैं ?

सीताराम दीवान चंद, पहाड़गंज; चचे दी हट्टी कमला नगर

 

Biryani

मुगल सम्राटों का पसंदीदा व्यंजन बिरयानी जिसका स्वाद हर किसी की जुबान पर चढ़ा हुआ है. आज पूरे भारत में बिरयानी का मज़ा लिया जा रहा है. यह मुर्गी या मांस आधारित पकवान मिट्टी के बर्तन में तैयार किया जाता है और ढक्कन को आटे के साथ सील कर दिया जाता है जिससे मसाले, स्वाद और सुगंध एक दूसरे से अच्छी तरह मिल जाएं. दिल्ली में बिरयानी का स्वाद आप फ़ूड चेन, सड़क के किनारे ढाबों में या फिर फाइव स्टार होटल में ले सकते हैं.

इस डिश को आप कहाँ ट्राई कर सकते हैं?

आईटीसी मौर्य में दम पुख्त; अल काकोरी अल कौसर, आर के पुरम, डीज़ बिरयानी और कबाब, डिफेंस कॉलोनी

 

निहारी

जैसे ही आप पुरानी दिल्ली Delhi में प्रवेश करते हैं और पतली गलियों में चलते हैं, तो आपको यहां का मशहूर व्यंजन निहारी मिलेगा. जो अपने स्वाद और खुशबू के लिए जाना जाता है. ये धीमी गति से पका हुआ मांस का स्वादिष्ट, मसालेदार शोरबा गर्म तंदूरी रोटियों या ज़्यादातर खमेरी रोटियों के साथ परोसा जाता है. निहारी पकवान शाही परिवारों के भीतर बेहद पसंदीदा था. जो सुबह दावत पर इसे परोसा करते थे. आज यह मजदूरों, रिक्शा चालकों, कूलियों और कई अन्य लोगों के लिए आदर्श पोषण का काम करता है. जो अपने दिन की शुरुआत पोषक भरे खाने से करना चाहते हैं. उनके लिए निहारी बेस्ट ऑप्शन है.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं?
बारा हिंदू राव क्षेत्र; करीम जामा मस्जिद के पास

 

काठी रोल

कोलकाता, जहां मूल रूप से काठी रोल की शुरुआत हुई. लेकिन दिल्ली Delhi का रोल भी अपने स्वाद के लिए जाना जाता है. ये दिल्ली में सड़क के स्टॉलों से लेकर विभिन्न प्रकार के रोल ऑफर करने वाले सुपरमार्केट्स में जमे हुए विकल्पों और यहां तक ​​कि पॉश दिल्ली रेस्तरां में काठी रोल बड़ी जोरदारी से बिकता है. दौड़ भाग भरी जिंदगी वालों के लिए दिल्ली Delhi का रोल खाने के बेस्ट ऑप्शन में से एक है.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं ?
निज़ाम, कनॉट प्लेस; खान चाचा, खान मार्केट; कुरैशी का कबाब कॉर्नर, साउथ एक्सटेंशन- II

 

मोमोज़

अब दिल्ली Delhi के सबसे लोकप्रिय स्नैक्स की बात करते हैं. ये आपको कार्यालय परिसरों, जन्मदिन या यहां तक ​​कि कॉकटेल पार्टियों में भी देखने को मिल जाएगा. मोमोज़ बेचने वाले लगभग हर ऑफिस बिल्डिंग, हाउसिंग एरिया और मार्केट प्लेस, कोचिंग सेंटर के बाहर आपको मिल ही जायेंगे. ये स्वादिष्ट मोमोज़ शाकाहारी और मांसाहारी दोनों ऑप्शन में उपलब्ध होते हैं और इन्हें तीखी लाल चटनी के साथ खाने में मज़ा आता है.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं ?
कमला नगर मार्केट; दिल्ली Delhi हाट में नागालैंड फूड स्टाल; सिक्किम हाउस, पंचशील मार्ग; कैफे ब्राउन शुगर, जीके बाजार; यशवंत कॉम्प्लेक्स, चाणक्य पुरी, मजनू का टीला, नॉर्थ कैंपस.

 

मिठाई

आप शायद दिल्ली Delhi के सभी घरों में इस्तेमाल होने वाली इस लाइन से परिचित होंगे, “खाने के बाद कुछ मीठा हो जाए” राजधानी में विविध प्रकार की मिठाइयों की पेशकश के साथ, पाइपिंग-हॉट जलेबी और लिप-स्मूचिंग राबड़ी फालूदा से लेकर कस्टर्ड एप्पल, इमली और आम पापड़ जैसे फ्लेवर के इनोवेटिव कुल्फी, शुद्ध देसी घी और ब्लूबेरी चीज़ केक से बने स्वादिष्ट मोतीचूर के लड्डू के लिए खास तौर पर जाना जाता है. दिल्ली Delhi के लोग खाने के बाद मीठा खाना नहीं भूलते. इसीलिए यहां मीठे में आपको अलग-अलग डिश खाने को मिल जाएंगी.

आप इस डिश को कहां ट्राई कर सकते हैं ?
ज्ञानी दी हट्टी, चांदनी चौक; चांदनी चौक में पुराने और प्रसिद्ध जलेबीवाला जिन्होंने स्वर्गीय राज कपूर और इंदिरा गांधी जैसी हस्तियों को भी अपनी डिश परोसी है. कुरमील मोहन लाल कुल्फीवाला, चांदनी चौक; बिग चिल कैफे, खान मार्केट; घंटवाला हलवाई, चांदनी चौक

Anchal Shukla

मैं आँचल शुक्ला कानपुर में पली बढ़ी हूं। AKTU लखनऊ से 2018 में MBA की पढ़ाई पूरी की। लिखना मेरी आदतों में वैसी शामिल है। वैसे तो जीवन के लिए पैसा महत्वपूर्ण है लेकिन खुद्दारी और ईमानदारी से बढ़कर नहीं। वो क्या है किमैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हें याद रखती हूँ,मैं बातें भूल भी जाऊं तो लहज़े याद रखती हूँ,ज़रा सा हट के चलती हूँ ज़माने की रवायत से,जो सहारा देते हैं वो कंधे हमेशा याद रखती हूँ।कुछ पंक्तिया जो दिल के बेहद करीब हैं।"कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोयेऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये"