Lahaul Spiti Valley आकर तिब्बती अंदाज में लें इन फूड्स का मज़ा

हिमाचल प्रदेश का लाहुल स्पीती टूरिस्ट की नजर से बहुत ही शानदार जगह है। चाहे उत्तर प्रदेश हो, दिल्ली हो, राजस्थान हो या फिर मध्य प्रदेश और बिहार, लोग यहां पर घूमने के लिए देश के अनेक हिस्सों से आते हैं। खास कर गर्मी के मौसम में तो ये जगह पर्यटकों से भरी हुई नजर आती है। लोग यहां पर घूमने-फिरने के लिए तो आते हैं लेकिन यहां खाने-पीने के लिए भी काफी कुछ मशहूर है।

लाहुल-स्पीती एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है, इसलिए यहां पर अलग-अलग तरह के खाने-पीने की चीजों का लुत्फ लिया जा सकता है। स्पीती का खानपान और रहन-सहन लद्दाख और तिब्बत से मिलता-जुलता है और तो और यहां पर ज्यादातर रेस्टोरेंट में आपको भारतीय भोजन दाल-चावल और रोटी-सब्जी भी मिलती है। कुल मिलाकर आप जब भी लाहुल स्पीती जाएं तो वहां का खाना जरूर खाएं। आज आपको हम ट्रैवल जुनून पर बताते हैं कि आखिर क्या-क्या खाने में यहां पर मशहूर है।

मक्‍खन वाली चाय

याक के दूध की क्रीम से बनने वाली यहां की मक्खन वाली चाय का जायका जरूर चखें। इसका फ्लेवर बिलकुल ही अलग होता है। ये आमतौर में रेस्‍टोरेंट्स में नहीं मिलती है, लेकिन यहां घरेलू खाने का अहम हिस्‍सा होती है। इसका रंग गुलाबी और स्‍वाद थोड़ा सा नमकीन होता है।

याक चीज

ये काफी टेस्टी होता है, ये आम चीज से काफी अलग होता है। इसे आम चीज से अलग याक के दूध से तैयार किया जाता है। साथ में इसे अलग स्वाद देने के लिए खट्टे फलों का रस भी इसमें मिलाया जाता है। इसे खरीदने के लिए आपको किसी तरह की मेहनत नहीं करनी होगी ये आपको बेहद ही आसानी से लोकल बेकरी और डेयरी पर मिल जाएगा।

मोकथु और छांग

लाहौल स्पीति जा रहे है तो ये आप जरूर ध्यान रखें कि यहां पर ठंड काफी ज्यादा होगी जिससे की आपको कुछ परेशानियां हो सकती है। लेकिन आप यहां पर खाने-पीने का लुफ्त उठाते रहिए और ठंड को भूल जाएं। ऐसी ही एक डिश है जो आपको ठंक का अहसास ही नहीं होने देगी उसका नाम है मोकथुक, ये यहां की काफी मशहूर डिश है जिसे लद्दाख के लोग बड़े चाव से खाते हैं। इस डिश में मोमोज को सूप के साथ पकाया जाता है और गर्म-गर्म परोसा जाता है। इसके अलवा अगर आप शराब पीते हैं तो छठांग भी पीजिए और छांग यहां की देसी शराब है, जिसे लद्दाखी लोग खुद तैयार करते हैं। इसमें काफी हल्का नशा होता है, ये लोग जब खेतों में काम करने के लिए जाते हैं तो उसे साथ ले जाते हैं। इसे पीने से इनका शरीर काफी गर्म रहता है।

थुपका

थुपका लद्दाखी खाने में खास रूप से मिलता है। इसका सर्दी से बचाने में अहम रोल होता है। इसमें नूडल्स, सब्जियां और मीट के टुकड़ों को एक साथ पकाकर बनाया जाता है। थुपका यहां की लोकल ब्रेड जिसे खमीर कहते हैं, उसके साथ परोसा जाता है। थुपका आपको लद्दाख में छोटी से छोटी दुकान में भी बहुत ही आसानी से मिल जाएगा। ये एक तरह का वहां का स्ट्रीट फूड है जो टेस्ट में काफी अच्छा होता है।

टीग्मो

ये कई तरह की सब्जियों और खमीर वाले ब्रेड से बनता है। टीग्मो का स्वाद यहां आकर लेना बिलकुल भी नहीं भूलें। ये वेजिटेरियन और नॉन वेजिटेरियन दोनों ही तरह से मिलता है। और दोनों ही इसे काफी पसंद करते हैं। ये स्वाद में खट्टी-मीठी होती है, इस डिश को आमतौर पर लोग स्नैक्स के साथ लेते हैं, लेकिन इसे खाने में भी सर्व किया जा सकता है।

खुबानी जैम

पूरे लद्दाख में खुबानी काफी मशहूर है। साथ ही इससे बनने वाली डिशेज भी बहुत ही ज्यादा पसंद की जाती है। जैम से लेकर अचार तक खुबानी का पसंद किया जाता है। साथ ही खुबानी का फेसपैक और स्क्रब तक तैयार किया जाता है। खुबानी से बनने वाली खाने की चीजें सिर्फ टेस्टी ही नहीं बल्कि काफी सेहतमंद भी होती है।

News Reporter
एक लेखक, पत्रकार, वक्ता, कलाकार, जो चाहे बुला लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: