Shyam Rasoi Sahibabad : गाजियाबाद की श्याम रसोई में मिलता है 1 रुपये में भरपेट भोजन!

क्या आप सोच सकते हैं कि महंगाई के इस दौर में कहीं पर 1 रुपये में भरपेट खाना ( Meal for 1 rupee ) मिले? ये सवाल थोड़ा पेचिदा जरूर है लेकिन है बिल्कुल वाजिब. दिल्ली के पास एक ऐसी जगह है जहां पर 1 रुपये में हर किसी को भरपेट खाना खिलाया जाता है. हम आपको इस आर्टिकल में इस जगह के बारे में बताएंगे और इस खास रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) से आपका परिचय भी कराएंगे. बस निवेदन ये है कि इस आर्टिकल को शेयर खूब करें, ताकि जरूरतमंद लोगों तक ये आर्टिकल पहुंच सके और लोगों की मदद हो सके…

श्याम रसोई, लाजपत नगर, गाजियाबाद || Shyam Rasoi, Lajpat Nagar, Ghaziabad

उत्तर प्रदेश में दिल्ली से सटा शहर है गाजियाबाद. इसी गाजियाबाद जिले ( Ghaziabad District in Uttar Pradesh ) के साहिबाबाद में लाजपत नगर ( Lajpat Nagar, Sahibabad ) में श्याम रसोई ( Shyam Rasoi ) है. ये श्याम रसोई ( Shyam Rasoi ) 2022 में शुरू हुई और लगातार जारी है. इस श्याम रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) में दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक हर किसी को 1 रुपये में भोजन कराया जाता है, वह भी भरपेट.

1 रुपये में भरपेट भोजन || Food in 1 rupee

इस रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) की पहल करने वाले गोपाल शर्मा ( Gopal Sharma, Owner of Shyam Rasoi ) बताते हैं कि योजना की शुरुआत करते वक्त सबसे पहले यही विचार किया गया था, कि इसे मुफ्त में ही शुरू किया जाए. लेकिन फिर बात आई स्वाभिमान की. यह संभव था कि कोई शख्स जिसे जरूरत तो हो, लेकिन स्वाभिमान की वजह से वह विवश हो जाए और यहां भोजन न करे. इसी वजह से 1 रुपये का शुल्क रखा गया, ताकि वह स्वाभिमान से, हक से खाए.

कैसे होता है काम || How Shyam Rasoi Runs

श्याम रसोई के संचालन ( Shyam Rasoi Operation ) में राम जानकी मंदिर ( Ram Janaki Mandir, Lajpat Nagar, Sahibabad ) से जुड़ी संगत कार्य करती है. राम जानकी मंदिर परिसर ( Ram Janaki Mandir Complex ) में ही यह रसोई संचालित होती है. राम जानकी मंदिर से जुड़े श्रद्धालु सुबह 11 बजे अपने आप रसोई आ जाते हैं… इसमें महिलाएं, बच्चे, सब होते हैं. आटा गूंथने की मशीन में आटा गूंथा जाता है, फिर शुरू होती है रोटियों की बेलाई. रोटियों की बेलाई महिलाएं, लड़कियां करती हैं जबकि उनकी सेंकाई, ऑटोमैटिक मशीन पर पुरुष करते हैं.

श्याम रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) को रोटी सिंकाई और आंटा गूंथने की मशीन भी भक्तों ने ही डोनेट की है. ये तो रही सामाजिक प्रेम और एकजुटता की बात… लेकिन बड़ा सवाल है कि महंगाई के दौर में यहां काम होता कैसे है? मतलब किस तरह से अनाज की आपूर्ति और खर्च की जरूरत को पूरा किया जाता है?

श्याम रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) साहिबाबाद के संचालक गोपाल शर्मा ने बताया कि हम किसी से भी धन का दान नहीं लेते हैं. दान सिर्फ अनाज का ही लिया जाता है. 1 किलो, 2 किलो…. जितना चाहे उतना दान… लेकिन सिर्फ अनाज के रूप में ही. यही भाव है कि मार्केट में दुकानदारों से लेकर पड़ोसी तक… खुलकर सहयोग कर पाते हैं.

श्याम रसोई में भोजन का मेन्यू || Shyam Rasoi Food Menu

श्याम रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) के मेन्यू में चावल, दाल, सब्जी, रोटी होती है. आप वीडियो में इस भोजन की क्वालिटी देख पाएंगे. ये बेहतरीन भोजन हर किसी की जुबान पर चढ़ जाता है. पानी की भी सुविधा यहां होती है.

श्याम रसोई में सहयोग कैसे करें || How to Donate for Shyam Rasoi

श्याम रसोई ( Shyam Rasoi Sahibabad ) में अगर आप किसी भी तरह का सहयोग करना चाहते हैं, तो हम आपको गोपाल शर्मा जी का नंबर उपलब्ध करवा रहे हैं. आप सीधा उनसे बात करके अपनी मदद पहुंचा सकते हैं. गोपाल शर्मा 9891321712

ये भी पढ़ें, Delhi Tours : राजधानी में घूमने के लिए 12 जगहों के बारे में जानें विस्तार से

error: Content is protected !!