ये है असली ‘उड़ता पंजाब’: गांव में हर छत पर हैं ‘हवाई जहाज’

हम सभी को किसी ना किसी चीज का शौक होता है, लेकिन कुछ लोगों के अजीबो-गरीब शौक की वजह से वो काफी ज्यादा मशहूर हो जाते हैं। ये लोग अपने शौक के लिए कुछ भी कर देते हैं, आज हम ट्रैवल जुनून पर आपको कुछ लोगों के ऐसे ही अजीब शौक के बारे में बताएंगे। एक व्यक्ति के शौक ने उसे पूरे भारत में मशहूर कर दिया है। इस शख्स ने अपने घर की छत पर एक हवाई जहाज लगा दिया है। ये घर पंजाब के जालंधर शहर में लाबड़ा गांव में है। इस घर की छत पर लगा हवाई जहाज सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचता है। जो भी इस छत को देखता है वो हैरान रह जाता है। दरअसल इस मकान की छत पर एयरइंडिया का एक बड़ा सा विमान खड़ा है। आपको बता दें कि ये घर एक NRI का है।

ये जो विमान इस घर की छत पर खड़ा है ये कोई एयरइंडिया का असली विमान नहीं है बल्क‌ि एक जहाजनुमा बनाए गए कमरे हैं। दरअसल NRI ने हवाई जहाज में उड़ने और उनमें रहने के सपने को साकार करने की वजह से ये काम किया है। इस शख्स का कहना है कि जहाजनुमा कमरों पर एयर इंडिया लिखने की वजह से अधिकारियों के इस शख्स के पास फोन भी आए हैं कि आप मुफ्त में एयर इंडिया का प्रचार कर रहे हैं। छत पर हवाईजहाज सिर्फ जालंधर में ही नहीं बल्कि नूरमहल तहसील के उप्पला गांव में तो हालात यहां तक है कि लगभग हर घर के ऊपर जहाज या अलग अलग तरह की कलाकारी नजर आती हैं। इस‌लिए इस गांव को लोग अब जहाज वाले गांव के नाम से पहचाने जाने लगे हैं।

आपको बता दें कि ये NRI संतोख सिंह हैं, जिन्होंने अपने घर के ऊपर एक हवाई जहाज बनवाया था। ये जहाज दो किलोमीटर की दूरी से ही दिख जाता है। ये लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र है। दरअसल संतोख सिंह इंग्लैंड में रहते हैं और उनका होटल का बिजनेस है। उनके मुताबिक ऐसा करने के पीछे उनका मकसद सिर्फ ये था कि उन्हें जहाज में उड़ना और उसमें रहना काफी पसंद है। केवल संतोख सिंह ही नहीं बल्कि पंजाब के जालंधर, कपूरथला, होशियारपुर और दोआबा में कई गांव के मकानों पर पानी की टंकी पर हवाई जहाज दिखाई देता है। जिन आलीशान कोठियों में NRI कभी-कभी अपने परिवार वालों से मिलने आते हैं, उनके घरों की छतों पर पानी की टंकियों पर जहाज बने हुए हैं।

वहीं उप्पला गांव को टंकी वाला गांव भी कहा जाता हैं वहां और उसके आस-पास के गांव में भी आपको इस तरह का नजारा देखने को मिल जाएगा। यहां पर लोगों ने अपनी पानी की टंकियों को अलग अलग आकार में और अलग अलग चीजों को दर्शाने के लिए बनाया हुआ है। आप इन टंकियों को देखकर ही समझ जाएंगे की घर का मालिक क्या करता है। उप्पला गांव के मकानों की छतों पर आम वाटर टैंक नहीं है। बल्कि यहां पर हवाई जहाज, घोड़े, गुलाब, कार, बस आदि कई तरह के आकारों की टंकियां दिखाई दे जाएंगी। अगर किसी की छत पर आर्मी का टैंक दिख जाए तो वहां पर समझ लेना कि उस घर से कोई न कोई सदस्य आर्मी में है और अगर आपको छत पर प्लेन दिखे तो समझिए उस घर के लोग NRI हैं।

यहां के एक घर के ऊपर सिख महिला माई भागो की प्रतिमा बनी है। वॉटर टैंक पर बनी ये प्रतिमा ‘वुमन एम्पावरमेंट’ को दर्शाती है। आपको बता दें कि माई भागों ने सन् 1705 में मुगलों के खिलाफ सिख सैनिकों का नेतृत्व किया था। जिस कारण उनको सम्मान देने के लिए ये प्रतिमा बनी हुई है। वहीं लोगों के घरों पर ट्रेक्टर और किसान की प्रतिमाएं भी लगी है जो कि किसानों के सम्मान के रूप में लगाई है, कुछ लोग इसे सिर्फ सम्मान के लिए इस्तेमाल करते हैं तो वहीं कुछ लोगों ने इसे पानी के टंकी के रूप में बनाया है, जिससे वो सम्मान के साथ-साथ इन प्रतिमाओं में पानी भी भर कर रखते हैं। तो शान के साथ-साथ प्रतिमा का अच्छे से इस्तेमाल भी हो जाता है।

News Reporter
एक लेखक, पत्रकार, वक्ता, कलाकार, जो चाहे बुला लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: