जब मात्र एक रुपए में बिक गया था नागपुर स्टेशन, जानें इसके पीछे की दिलचस्प कहानी

nagpur railway station- समय तेजी से बदल रहा है और समय के साथ बहुत कुछ बदल गया और समय के साथ-साथ वो बातें भी कई गुम सी होकर रह गई जो आज के समय में हमारे लिए चौंकाने वाली हुआ करती हैं. हमारे देश में बहुत से ऐसी जगहें हैं जिसके बारे में हम कुछ नहीं जानते बस उनका नाम जानते हैं. बस उसके पीछे क्या इतिहास रहा है कैसे उसकी शुरुआत हुई थी.

ये सब बातें शायद ही आझ के समय में किसी को पता हो. इन बातों का जानना उतना ही जरूरी हैं जितना कि आप किसी और चीज के बारे में पता करना चाहते हैं. आप जानते हैं एक जमाना था जब लोगों के पास इतने पैसे भी नहीं हुआ करते थे जिससे वह अपने जीवन को आसानी बिता सकें. उस वक्त में पैसा बेहद मायने रखता था, लेकिन धीरे-धीरे आज का समय आते-आते पैसे की वैल्यू में भी गिरावट आती जा रही है.

This is the time today

जैसे कि हर कोई जानता है कि महंगाई लगातार बढ़ती ही जा रही है.  आज के समय को देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि आज एक रुपए की कोई कीमत नहीं हैं. आज मामूली सी लगने वाली रकम में ही पहले के जमाने में आलीशान भवन तैयार हो जाते थे. हम आज इस बारे में बात क्यों कर रहे हैं आप यही सोच रहे होंगे.

Nagpur station land was sold for one rupee

दरअसल, आज हम आपको एक ऐसी जानकारी देने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे कि ऐसा भी हुआ था कभी. क्या आप जानते हैं कि नागपुर स्टेशन बनाने के लिए जमीन का सौदा केवल एक रुपये में किया गया था. क्या हुआ चौंक गए ना. वैसे हमे पता था कि ये यह पढ़कर हर किसी को अजीब और झटक लग सकता है, लेकिन यह बिल्कुल सच है.

Special sandstone was used

दरअसल, यह बात आजादी से पहले की है, जब खैरागढ़ के राजा ने इस जमीन का सौदा अंग्रेजों के साथ केवल एक रुपए में ही कर दिया था. बाद में यहां पर नागपुर रेलवे स्टेशन बना था. नागपुर रेलवे स्टेशन की स्थापना 15 जनवरी 1925 की गई थी, जिसको आज कम से कम लगभग 93 साल हो गए हैं.

Dussehra 2020 : यहां होती है रावण की पूजा, कभी नहीं जलाया गया रावण का पुतला

इस रेलवे स्टेशन की स्थापना तत्कालीन गवर्नर सर फ्रैंक ने कराई थी. इतना ही नहीं नागपुर का ये रेलवे स्टेशन भी कोई आम नहीं है. बताया जाता है कि इसको बनाने के लिए खास बलुआ पत्थरों का इस्तेमाल किया गया था. जिन्हें सावनेर से लाया गया था.

One of the busiest railway stations in the country

बता दें कि नागपुर रेलवे स्टेशन पर  8 प्लेटफॉर्म हैं. इतना ही नहीं ये ये स्टेशन सबसे ज्यादा व्यस्ततम रेलवे स्टेशनों में से एक माना जाता है . फिलहाल के समय में यहां से रोजाना लगभग 92 सवारी गाड़ी और लगभग 200 मालगाड़ी गुजरती हैं और 22 ट्रेनें तो यहां से बनकर चलती हैं.

अगर आज के समय में आपसे कहा जाए कि नागपुर रेलवे स्टेशन की कीमत क्या होगी तो शायद आप संख्या के पीछे जीरो लगाते समय कनफ्यूज हो जाएं. करोड़ों लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचाने के लिए ट्रेनें मुहैया कराने वाला नागपुर स्टेशन है.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे