Fateh Prakash Palace के बारे में जानें कुछ रोचक तथ्य

Fateh Prakash Palace: उदयपुर में फतेह प्रकाश महल एक अच्छी तरह से संरक्षित महल में से एक है.  महाराणा फतेह सिंह के शासनकाल में इस महल का निर्माण शाही दलों और कार्यों के लिए किया गया था. फतेह प्रकाश पैलेस झील पिचोला के पूर्वी किनारे पर स्थित है.

Read more

यहां 2 रुपये में मिलती है चाय और 10 रुपये में मिलता है भरपेट खाना

food : यह कहानी राजस्थान के श्रीगंगानगर शहर की है, जहां 11 दोस्तों ने मिलकर एक ऐसी रसोई बनाई है, जो रोजाना तकरीबन एक हजार लोगों को खाना परोसती है. महंगाई के इस दौर में भी यहां केवल 10 रुपये में आप भर पेट खाना खा सकते हैं.

Read more

जोधपुर में स्थित ओसियां ​​गांव में घूमने के लिए है बहुत खूबसूरत जगहें

Osian Village : राजस्थान में घूमने के लिए ओसियां ​​गांव सबसे अच्छे स्थानों में से एक है. ओसियां एक ऐसी जगह मानी जाती है, जहां आराम से सैर की जा सकती है. ऊंट की सवारी जैसे ऊंट की सवारी, रात भर सफारी, और ओसियां विलेज में शिविर में भी रह सकते हैं. अगर आप घूमने का मन बना रहे हैं.

Read more

104 साल के इतिहास में पहली बार जौलजीबी मेला का नहीं होगा आयोजन,जानें क्यों होगा ऐसा

Jauljibi fair: कोविड-19 महामारी के कारण इस साल एक सदी से भी अधिक पुराना जौलजीबी मेला (Jauljibi fair) आयोजित नहीं किया जाएगा. (Pithoragarh) जिले के जौलजीबी और धारचूला इलाकों के व्यापारियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के बाद प्रशासन ने इस बार मेला आयोजित नहीं करने का फैसला किया

Read more

हल्दी घाटी वही जगह जहां महाराणा प्रताप और अकबर की सेना के बीच हुआ था युद्ध

Haldi valley- भारत की धरती पर कई वीर यौद्धाओं ने जन्म लिया है. मेवाड़ की धरती पर ऐसे ही एक शूरवीर ने 9 मई 1540 को जन्म लिया था. नाम था महाराणा प्रताप,महाराणा प्रताप के शौर्य से जुड़े कई किस्से हैं, जिनमें से एक है हल्दीघाटी का युद्ध.

Read more

Work from home वालों के लिए इस राज्य ने अपनाया नया घूमने का नया तरीका, पर्यटकों को कर रहा है अट्रैक्ट

Work from home-कोरोना महामारी के बीच कई लोग वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं. वर्क फ्रॉम होम से उन्हें फैमिली के साथ टाइम बिताने का मौका तो मिला है, लेकिन कई महीनों से घर पर रहने की वजह से लोग परेशान भी हो गए हैं. अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा है, तो आप भी वीकेंड पर माइंड फ्रेश करने के लिए बाहर घूमने जा सकते हैं.

Read more

भारत में इन 7 जगहों पर रावण का पुतला नहीं फूंका जाता बल्कि की जाती है पूजा

ravana-दशहरा यानी विजय दशमी के त्योहार को बुराई पर अच्छाई की जीत का सबसे बड़ा प्रतीक माना जाता है. हर साल शारदीय नवरात्रि के समापन के साथ ही दशमी तिथि पर ये त्योहार मनाया जाता है. इसन दिन प्रभु श्रीराम की पूजा होती है और रावण के पुतले का दहन किया जाता है.

Read more

जयपुर के ट्रिप में अगर आप बिड़ला मंदिर नहीं गए, तो टूर रह जाएगा अधूरा

Birla temple – भारत के कुछ मशहूर मंदिरों में गुलाबी शहर जयपुर का भव्य बिड़ला मंदिर एक है. देशभर में अपनी महिमा के लिए प्रसिद्ध लक्ष्मी नारायण मंदिर को बिड़ला मंदिर के नाम से जाना जाता है और ये गुलाबी शहर का गौरव है.

Read more

जोधपुर में स्थित है Jaswant Thada, जिसे मारवाड़ का ताजमहल कहा जाता है

Jaswant Thada – जसवंत थड़ा को मारवाड़ का ताजमहल कहा जाता है. जसवंत थडा का निर्माण महाराज जसवंत सिंह द्वतीय की स्मृति में उनके बेटे महाराज सरदार सिंह जी ने 1906 में कराया था. मेहरानगढ़ किले से बाहर निकलने के बाद पैदल चलते हुए आप जसवंत थड़ा पहुंच सकते हैं.

Read more

Jaigarh Fort – जहां रखी गई है एशिया में सबसे बड़ी मानी जाने वाली तोप

Jaigarh Fort – जयगढ़ किला राजस्थान के जयपुर में अरावली की पहाडि़यों पर चील की टीला पर स्थित है. यह किला महाराजा जय सिंह ने 18वीं सदी में बनवाया था. यह किला चारों तरफ से ऊंची-ऊंची दीवारों और जंगलों से घिरा हुआ है. इस जयगढ़ किले को जीत का किला भी कहा जाता है. यह किला जयपुर शहर सीमा में आमेर में स्थित है .

Read more