Dhankar Monastery : धनकर मठ के बारे में जानें ये रोचक तथ्य

Dhankar Monastery : धनकर मठ पिन नदी के किनारे, एक खड़ी चट्टान की सतह पर बना एक गोम्पा है.  इसे देख ऐसा लगता है मानो यह गुरुत्वाकर्षण को चुनौती दे रहा है. धनकर बौद्ध मठ धनकर गांव में है जो कि हिमाचल के स्पीति में समुद्र तल से 3890 मीटर की उंचाई पर स्थित है.

यह जगह ताबो और काजा दो फेमस जगहों के बीच में  है. स्पीति और पिन नदी के संगम पर स्थित ये जगह दुनिया में बौद्ध धर्म के भी और ऐतिहासिक विरासतों में भी स्थान रखती है. धनकर एक बड़ा गांव है और 17 वीं शताब्दी में स्पीति साम्राज्य की राजधानी थी.

धनकर मठ बौद्ध कला और संस्कृति के मुख्य केंद्रों में से एक होने की वजह से फेमस टूरिस्ट प्लेस बन गया है. इस मठ में  बुद्ध की मूर्ति और एक छोटा म्यूजियम है.  इस मठ के नीचे शिचिलिंग का गांव है जहां पर आप एक नया मठ मिलेगा, जिसमें तिब्बती बौद्ध धर्म के गेलुग स्कूल से जुड़े लगभग 150 भिक्षु हैं. तो आइये जानते है धनकर मठ का इतिहास और इसकी यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी.

धनकर मठ का इतिहास || History of Dhankar Monastery

धनकर 17 वीं शताब्दी के दौरान स्पीति घाटी साम्राज्य की पारंपरिक राजधानी थी और इसमें 12 वीं शताब्दी की कुछ विशेषताएं थीं. धनकर मठ लगभग एक हजार साल पुराना है. वर्तमान में इस मठ के कुछ हिस्सों को बिगड़ने के कारण बदल दिया गया है और एक नया गोम्पा बनाया गया है.

इसके अलावा यहां धनकर किला स्थित है जो अब खंडहर हो चुका है क्योंकि यह किला भूकंप में नष्ट हो गया था. 1000 फुट उंची एक ढांग पर बनाया गया और दो नदियों के संगम पर स्थित ये किसी भी बौद्ध मठ के लिये आदर्श जगह मानी जाती है . ढांग जो कि हमारे यहां पर देशी भाषा में बोला जाता है यानि की पहाड़ का एक छोटी सा भाग और कर या कार का मतलब किला कहा जाता है इसीलिये इसका नाम धनकर पड़ा.

Kedarnath आपदा : 7 साल बाद कितना बदल गया गरुड़चट्टी

यहां से स्पीति और पिन दोनों नदियों का अदभुत व्यू दिखाई देता है .धनकर के अन्य नाम हैं, धनखर, द्रंगखर तथा धंगकर जिसका हिमाचली बोली में शाब्दिक अर्थ है, पहाड़ी चट्टान पर आरोहित गढ़. धनकर मठ स्पीति घाटी के ताबो एवं काजा कस्बों के लगभग मध्य में स्थित है। यहां पहुंचने के लिए लगभग 8 किलोमीटर का पैदल चलना पड़ता है.

यहां के आकर्षक स्थल || Attractive places Here

पर्यटन के लिहाज से यह एक खूबसूरत जगह है, जहां हर किसी को एकबार जरुर आना चाहिए. यहां स्थित धनकर मठ/गोंपा राज्य के चुनिंदा सबसे खास बौद्ध जगहों में से एक है.  आध्यात्मिक एहसास के लिए आप यहां आ सकते हैं. यह मठ इस क्षेत्र का पुराना और धार्मिक महत्व रखने वाला एक पवित्र स्थल है.

इसके अलावा आप स्पीति नदी के खूबसूरत व्यू का भी आनंद ले सकते हैं. यह नदी इस पहाड़ी गांव को संवारने का काम करती है.यह उन पर्यटकों के लिए भी खास माना जाता है जो नेचर के बीच में एकांत समय बिताना चाहते हैं. आप यहां की धनकर झील भी देख सकते हैं.

धनकर मठ कैसे पहुंचें || How To Reach Dhankar Monastery

धनकर मठ एक बौद्ध मठ है जो हिमाचल प्रदेश की स्पीति घाटी में काजा से 24 किमी दूर स्थित है. धनकर मठ से फ्लाइट, रेल और सड़क मार्ग से आसानी से पहुंचा जा सकता है. नजदीकी हवाई अड्डा शिमला में है, जबकि. नजदीकी रेलवे स्टेशन कालका में है.

आप आसानी से मठ तक पहुंचने के लिए शिमला और रामपुर से बसों, जीपों और टैक्सियों की सेवा ले सकते हैं.

Temples in Kashmir : कश्मीरी पंडितों के बिना कैसे हैं, कश्मीर के ये 8 हिंदू मंदिर !

फ्लाइट से धनकर मठ कैसे पहुंचें || How To Reach Dhankar Monastery By Flight

स्पीति घाटी के लिए कोई सीधी उड़ान उपलब्ध नहीं है. यहां का नजदीकी हवाई अड्डा भुंतर में है, जो कुल्लू के पास स्थित है और घाटी से 245 किमी दूर है. हालांकि, भुंतर हवाई अड्डा सीमित उड़ानों के साथ छोटा है. ऑप्शन के रूप में 522 किमी की दूरी पर स्थित चंडीगढ़ हवाई अड्डा निकटतम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है. एक और अन्य ऑप्शन में रूप में हवाई अड्डा शिमला में स्थित है.

ट्रेन से धनकर मठ कैसे पहुंचें || How To Reach Dhankar Monastery By Train

स्पीति से नजदीकी ब्रॉड गेज रेलवे स्टेशन चंडीगढ़ में स्थित है, जिसकी देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी कनेक्टिविटी है. जोगिंद्रनगर में एक रेलवे स्टेशन भी है जो स्पीति के सबसे नजदीक है, लेकिन इस रेलवे स्टेशन की कनेक्टिविटी बहुत खराब है. इसके एक और नजदीकी रेलवे स्टेशन कालका में स्थित है.

सड़क मार्ग से धनकर मठ कैसे पहुंचें ||How to reach Dhankar Monastery by road

अगर आप चाहे हैं तो यहां सड़क मार्गों के माध्यम से भी पहुंच सकते हैं. जिसके लिए आपको पहले ताबो(32 कि.मी) और काज़ो(34कि.मी) नगर पहुंचना होगा, जहां से आप धनकर के लिए कैब या बस सेवा ले सकते हैं

धनकर मठ स्पीति की यात्रा का सबसे अच्छा समय || Best time to visit Dhankar Monastery Spiti

धनकर मठ स्पीति की यात्रा का सबसे अच्छा समय गर्मियों का मौसम होता है. जो लोग अपनी छुट्टियों को आराम से बिताना चाहते हैं उन्हें इस मौसम में स्पीति की यात्रा करना चाहिए.

जब पूरे भारत में तेज गर्मी होते हैं उस समय स्पीति का तापमान 0 से 15 डिग्री सेल्सियस तक होता है. मॉनसून के महीनों में स्पीति की यात्रा की यात्रा करने से बचना सबसे अच्छा है क्योंकि लगातार भारी वर्षा, लैंडस्लाइड और फिसलन भरी सड़कें आपकी यात्रा को पूरी तरह से खराब कर सकती हैं. स्पीति में सर्दियां काफी तेज होती है. इसलिए यात्रा करने के लिए गर्मियों के मौसम से अच्छा समय और कोई नहीं है.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!