Tuesday, February 27, 2024
Teerth YatraTravel Blog

Parvati Kund in Pithoragarh: जानें,पिथौरागढ़ से कैस पहुंचे पार्वती कुंड

Parvati Kund in Pithoragarh: पिथौरागढ़ में पार्वती कुंड भारत के सबसे प्रतिष्ठित धार्मिक मंदिरों में से एक है. यह एक हिंदू तीर्थ स्थल है, जो उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र की खूबसूरत पहाड़ियों में लगभग 5,338 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. इस स्थल का अत्यधिक आध्यात्मिक महत्व है और माना जाता है कि यहीं पर भगवान शिव और उनकी पत्नी पार्वती ने ध्यान किया था. हर साल, हजारों श्रद्धालु हिंदू दिव्य जोड़े से आशीर्वाद लेने के लिए यहां आते हैं.

जो लोग इस पवित्र स्थान की यात्रा करना चाहते हैं, उनके लिए यहां पिथौरागढ़ से पार्वती कुंड कैसे पहुंचे.

Best Trek In India : इंडिया के ये हैं 6 बेस्ट ट्रेक जहां जाना होता है हर किसी का सपना

पिथौरागढ़ में पार्वती कुंड तक पहुंचने का सबसे अच्छा तरीका पास के शहर पिथौरागढ़ से बस या टैक्सी लेना है. पिथौरागढ़ से पार्वती कुंड तक सीधी बसें उपलब्ध हैं. वैकल्पिक रूप से, आप जगह तक पहुंचने के लिए साझा जीप या टैक्सी भी ले सकते हैं. यातायात और मौसम की स्थिति के आधार पर यात्रा में लगभग 4-5 घंटे लगते हैं.

एक बार जब आप पार्वती कुंड पहुंचेंगे, तो इसके आसपास के बर्फ से ढके पहाड़ों का एक मनमोहक व्यू आपका स्वागत करेगा. लैंडस्केप व्यू है और इसमें एक अलग अलौकिक सुंदरता है जो आपके दिल और आत्मा को मोहित कर लेगी. कुंड के आसपास कई छोटे मंदिर और तीर्थस्थल हैं जहां आप अपनी तीर्थयात्रा के हिस्से के रूप में जा सकते हैं.

पार्वती कुंड का पवित्र तीर्थ स्थल समुद्र तल से लगभग 5,338 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. इसलिए, सलाह दी जाती है कि ठंडे तापमान के साथ-साथ अधिक ऊंचाई के लिए भी तैयार रहें. पार्वती कुंड जाते समय अपने साथ गर्म कपड़े, मजबूत जूते और सनब्लॉक ले जाना भी महत्वपूर्ण है क्योंकि कई बार मौसम अप्रत्याशित हो सकता है.

आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि यह एक धार्मिक स्थल है और टूरिस्ट से अपेक्षा की जाती है कि वे इस जगह पर जाते समय सम्मानजनक रवैया बनाए रखें. तेज़ संगीत और शराब या नशीली दवाओं के सेवन से बचें क्योंकि यहां ये सख्त वर्जित हैं. सुनिश्चित करें कि आप मंदिरों में प्रवेश करते समय अपना सिर ढक लें और मौन रहें ताकि आप मंदिर परिसर के अंदर ध्यान या प्रार्थना कर रहे अन्य भक्तों को परेशान न करें.

आप पार्वती कुंड के पास आसानी से आवास पा सकते हैं क्योंकि कई गेस्ट हाउस और होटल पूरे भारत से तीर्थयात्रियों की सेवा कर रहे हैं. इनमें से अधिकांश स्थान बहुत ही उचित दरों पर भोजन के साथ-साथ बुनियादी सुविधाएं भी प्रदान करते हैं. क्षेत्र में बहुत सारे रोस्टोरेंट और कैफे भी टेस्टी लोकल फूड परोसते हैं, जिनका मजा आप पार्वती कुंड की तीर्थयात्रा के बाद ले सकते हैं.

तो यदि आप कभी भी इस पवित्र मंदिर की यात्रा करने की योजना बनाते हैं, तो अब आप जानते हैं कि पिथौरागढ़ में पार्वती कुंड तक कैसे पहुंचें!

Kareri lake Trek Guide : करेरी झील ट्रैकिंग के लिए है बेस्ट

 

Komal Mishra

मैं हूं कोमल... Travel Junoon पर हम अक्षरों से घुमक्कड़ी का रंग जमाते हैं... यानी घुमक्कड़ी अनलिमिटेड टाइप की... हम कुछ किस्से कहते हैं, थोड़ी कहानियां बताते हैं... Travel Junoon पर हमें पढ़िए भी और Facebook पेज-Youtube चैनल से जुड़िए भी... दोस्तों, फॉलो और सब्सक्राइब जरूर करें...

error: Content is protected !!