बस में करना है सफर तो मास्क पहनना है जरूरी

Mask during travel: अब बस में सफर करना है तो मास्क पहनना जरूरी होगा. बिना मास्क के यात्रियों को बस में सफर करने नहीं मिलेगा. यदि मास्क नहीं है तो भी चिंता करने की जरूरत नहीं है. बस में मास्क भी मिलेगा. बस ड्राइवर, कंडेक्टर ही 10 रुपये अतिरिक्त लेकर यात्रियों को मास्क उपलब्ध कराएंगे.

यह सहमति शुक्रवार को आरटीओ कार्यालय में हुई जबलपुर बस ऑपरेटर एसोसिएशन और ऑटो चालक यूनियन की संयुक्त बैठक में बनी है. बैठक में आरटीओ संतोष पाल ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बस, ऑटो में कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश दिए हैं. आरटीओ ने बस, ऑटो से सफर करने वाले यात्रियों के चेहरों को मास्क से ढंक कर रखने, बसों को सेनिटाइज कराने और यात्रियों के बीच दो गज की शारीरिक दूरियों का अनिवार्य रूप से पालन कराने कहा है.

Himachal Pradesh Tours – Kasauli है Best Honeymoon Destination, माहौल और मस्ती सब भुला देगी

Will keep masks in buses

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा के निर्देश पर आरटीओ द्वारा आयोजित की गई गई बस ऑपरेटर और ऑटो चालक यूनियनों की बैठक में आरटीओ द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन कराने पर संयुक्त सहमति बन गई है. जबलपुर बस ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष कमल किशोर तिवारी ने आश्वस्त किया है कि बिना मास्क के यात्रियों को बस में सफर करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

Himachal Pradesh, Chamba: एक पत्रकार की बेमिसाल घुमक्कड़ी

प्रत्येक बस मे मास्क रखा जाएगा. यात्रियों बस कंडेक्टर के पास से मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे. बसों को भी छूटने से पहले सेनिटाइज कराया जाएगा. इसी तरह ऑटो चालक यूनियन के पदाधिकारियों ने कोरोना संक्रमण को लेकर जारी गाइडलाइन का पालन करने की बात कही है.

जबलपुर में कई बेहतरीन जगहें है घूमने के लिए, एक बार जरूर आएं

Appeal to passengers

एसोसिएशन पदाधिकारियों ने सभी यात्रियो से अपील की है कि कोरोना के संक्रमण रोकने के लिये मास्क पहनकर ही यात्रा करें. अपना एवं अन्य सहयात्री के स्वास्थ की रक्षा करें. यात्रियों को जागरूक करने के लिये शनिवार को दोपहर 12:30 बजे अंतरराज्यीय बस टर्मिनस (आईएसबीटी) में मास्क वितरण एवं जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन करने का भी निर्णय लिया गया है. इस अवसर पर एसोसिएशन सचिव वीरेंद्र साहू, सचिव कोषाध्यक्ष नसीम बेग, उदय चंद जैन, दिलीप मंगलानी, नरेश रजक, दीपेन्द्र डोंगरे, अमित रजक, प्रवक्ता संजय शर्मा आदि उपस्थित रहे.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे