ट्रेनों में महिलाओं की सुरक्षा करेगा ‘मेरी सहेली’ कैंपेन, जानें क्या होगा नया

Train- अगर आप महिला हैं और अकेले रेल यात्रा कर रही हैं, तो घबराएं नहीं अब रेलवे ने अकेले यात्रा कर रही महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए एक नये अभियान की शुरुआत की है. महिलाओं को सुरक्षा देने वाले इस अभियान को ‘मेरी सहेली’ नाम दिया गया है.

मेरी सहेली अभियान’ रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के सहयोग से चलाया जा रहा है. इस अभियान में आरपीएफ की महिला विंग की महिलाएं शामिल होंगी, जो यात्रा के दौरान अकेले सफर कर रही महिलाओं से उनका हालचाल पूछेगी और उनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखेंगी.
मेरी सहेली अभियान के तहत तो विंग बनाया गया है उसमें केवल महिला कर्मचारी शामिल हैं और वे पूरे रास्ते मुस्तैद रहेंगी. मेरी सहेली अभियान अभी पश्चिम रेलवे द्वारा शुरू किया गया है जो फिलहाल कुछ ट्रेनों पर लागू होगा.

‘मेरी सहेली अभियान’ का उद्देश्य सफर के दौरान महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध को रोकना है. विंग में शामिल महिलाएं रास्ते में महिलाओं को जागरूक करेंगी और उनकी सुरक्षा में जुटी रहेंगी. यह विंग महिलाओं को बतायेगी कि अगर रास्ते में कोई परेशानी हो तो रेल सुरक्षा बल के हेल्पलाइन नंबर 182 पर फोन करें.

जब मात्र एक रुपए में बिक गया था नागपुर स्टेशन, जानें इसके पीछे की दिलचस्प कहानी

दीपावली पर जहरखुरानी गिरोहों पर रहेगी नजर

दीपावली पर लोग अपने घरों को लौटते हैं. ऐसे में Train में लूटपाट और जहरखुरानी करने वाले गिरोह सबसे ज्यादा सक्रिय होते हैं. एडीजी ने इन गिरोहों के सदस्यों पर नजर रखने के आदेश दिए. पूर्व में जेल जा चुके जहरखुरानी गिरोह के सदस्य यदि छूटकर बाहर आ गए हैं तो उनके बारे में जानकारी जुटाने को कहा.

Special trains : दिवाली और छठ में घर जाना हुआ आसान, रेलवे चला रहा स्पेशल ट्रेन, ये रही लिस्ट

गांजा तस्करी पर विशेष नजर

इस साल ट्रेनों में गांजा तस्करी के सबसे ज्यादा मामले पकड़ में आए हैं, जीआरपी ने 50 से ज्यादा गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया. अधिकांश ने सरगना के दिल्ली में होने की जानकारी दी, मगर जीआरपी सरगना तक नहीं पहुंच पाई. एडीजी ने अधिकारियों को गांजा तस्करी पर विशेष नजर रखने के साथ ही इसका नेटवर्क खत्म करने को कहा.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे