Why Kartavya Path is So Special? : जानें कर्तव्य पथ की क्या है खासियत

Why Kartavya Path is So Special? : राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट तक जाने वाली सड़क को अब तक सभी राजपथ के नाम से जानते थे. आज़ादी से पहले इस मार्ग को ‘किंग्स वे’ कहा जाता था, जिसका मतलब है- राजा के गुज़रने का रास्ता. आज़ादी के बाद इसका नाम राजपथ कर दिया गया था, लेकिन अब मोदी सरकार ने राष्ट्रपति भवन से नई दिल्ली में इंडिया गेट तक फैले राजपथ और सेंटर विस्टा लॉन का नाम बदलकर कार्तव्य पथ करने का ऐलान कर दिया है.

इसी कड़ी में सरकार ने अब कई सालों बाद राजपथ को कर्तव्य पथ नाम देने का ऐलान कर दिया है. नेताजी स्टैचू से लेकर राष्ट्रपति भवन तक जो पूरी रोड जाती है, उसे अब कर्तव्य पथ कहा जाएगा.

New Delhi Railway Station : नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का मॉडर्न रूप देखकर चौंक जाएंगे आप, Indian Railway ने की फोटो शेयर

राष्ट्रीय राजधानी में इंडिया गेट पर ‘कर्तव्य पथ’ का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि कर्तव्य पथ के रूप में एक नए युग की शुरुआत हुई है.

‘कर्तव्य पथ’ के उद्घाटन पर बोलते हुए, पीएम मोदी ने कहा, “कर्तव्य पथ के रूप में एक नए युग की शुरुआत हुई है. उपनिवेशवाद का प्रतीक ‘किंग्सवे’ इतिहास होगा और इसे हमेशा के लिए मिटा दिया गया है. मैं सभी लोगों को बधाई देता हूं.”

Central Vista Redevelopment Project : PM ने किया Kartavya Path का उद्घाटन, जानें खासियत

क्यों हुआ राथपथ का रिडेवलपमेंट || Why did the redevelopment of Rathpath happen?

राजपथ और सेंट्रल विस्टा एवेन्यू के आसपास के इलाकों में भीड़ के कारण बुनियादी ढांचे पर पड़ते दबाव और पब्लिक टॉयलेट, पीने के पानी, स्ट्रीट फर्नीचर और पार्किंग प्लेस की पर्याप्त व्यवस्था जैसी बुनियादी सुविधाओं के अभाव के कारण राजपथ का रिडेवलपमेंट किया गया है.

कर्तव्य पथ’ की खासियत || Characteristics of the Kartavya Path

  • कर्तव्य पथ पर आपको नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 28 फीट ऊंची स्टैच्यू दिखाई देगी.
  • कर्तव्य पथ के दोनों ओर लाल ग्रेनाइट के 15.5 किमी लंबे वॉकवे का निर्माण किया गया है.
  • 19 एकड़ नहर क्षेत्र में लोगों को सुविधा के लिए 16 पुल बनाए गए हैं.
  • फूड स्टॉल लगे होंगे
  • कर्तव्य पथ के दोनों ओर बैठने के लिए बेंच की व्यवस्था की गई है
  • करीब 3.90 लाख वर्ग मीटर में फैला है कर्तव्य पथ का ग्रीन एरिया है
  • नए अंडरपास को बनाया गया है जिससे पैदल यात्रियों के लिए फायदा होगा
  • मॉडर्न लाइट्स लगे होंगे
  • हर हिस्से पर मॉडर्न टेक्नीक से लैस सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं
  • पार्किंग की व्यवस्था

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!