https://business.facebook.com/settings/security/business_verification?business_id=361906945015389

Rishikesh Tour : ऋषिकेश जाएं तो इन 10 जगहों पर घूमना न करें Miss

Rishikesh Tour – भारतीय राज्य उत्तराखंड में हिमालय से सटा ऋषिकेश भारत का 7 वां सबसे बड़ा शहर है. इसे “गढ़वाल हिमालय का प्रवेश द्वार” भी कहा जाता है. शहर एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है और हिंदुओं के लिए एक प्रमुख तीर्थ स्थान भी है. गंगा नदी ऋषिकेश शहर से होकर बहती है और यह अपने विभिन्न तीर्थों और योग आश्रमों के लिए प्रसिद्ध है. Rishikesh भी भारत के उन गिने-चुने स्थानों में से है, जो अपने पर्यटकों के लिए कई एडवेंचर खेलों की पेशकश करता है. ऋषिकेश से कुछ ही मील की दूरी पर हरिद्वार शहर के साथ, यह स्थान एक ‘पवित्र शहर’ भी माना जाता है और शाकाहारी है. Rishikesh का वातावरण यूरोपीय प्रकार का है. यहां का मौसम साल में कई बार बदलता रहता है और पर्यटक साल में कभी भी यहां आ सकते हैं. लेकिन सबसे अच्छा मौसम यहां सितम्बर के मध्य से लेकर मई तक रहता है.

Rishikesh Travel Guide – फ्री में घूमिए ऋषिकेश, आने-जाने-खाने की यहां नो टेंशन!

ऋषिकेश से ट्रेकिंग ट्रेल्स आपको हरियाली, अविश्वसनीय घाटियों की ओर ले जाएंगी, जो अंतहीन लगती हैं, और ताज़ा झरने जहां आप एक ब्रेक ले सकते हैं. आमतौर पर ट्रेल्स पर कुछ छोटे झोंपड़ी हैं, जो पूरे अनुभव का एक अच्छा हिस्सा है.

Rishikesh पर्यटन का सबसे आकर्षक स्थल है. विदेशी पर्यटक भी यहां आध्यात्मिक सुख की चाह में नियमित रूप से आते रहते हैं. मान्यता है कि समुद्र मंथन के दौरान निकला विष भगवान शिव ने इसी स्थान पर पिया था. विष पीने के बाद उनका गला नीला पड़ गया और उन्हें ‘नीलकंठ महादेव’ के नाम से जाना गया.  भगवान श्रीराम ने अपने वनवास काल के दौरान यहां के जंगलों में अपना समय व्यतीत किया था. रस्सी से बना ‘लक्ष्मण झूला’ इसका प्रमाण माना जाता है. 1939 में लक्ष्मण झूले का पुनर्निर्माण किया गया. आइए जानते हैं ऋषिकेश में स्थित 10  जगहों के बारे में विस्तार से.

Laxman Jhula

Rishikesh Tour  1939 में निर्मित, लक्ष्मण या लक्ष्मण झूला ऋषिकेश में एक निलंबन (suspension) पुल है जिसकी लंबाई 450 फीट और नदी से लगभग 70 फीट की ऊंचाई पर है. हिंदू धर्म के अनुसार, यह पुल उसी स्थान पर बनाया गया है, जहां लक्ष्मण ने एक बार जूट की रस्सी पर गंगा नदी को पार किया था, इस प्रकार यह एक और महत्वपूर्ण तीर्थ आकर्षण बना.

Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places
Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places

प्रसिद्ध: तीर्थयात्रा, पुल, नदियांटिकट: कोई प्रवेश शुल्क नहीं
ओपनिंग टाइमिंग: हर समय खुला रहता है
टाइमिंग: कोई विशेष टाइमिंग नहीं

Things to Do near Lakshman Jhula

खरीदारी
तेरा मंज़िल मंदिर जाएं
पास के रेस्तरां में खाएं.

Neelkanth Mahadev Temple

Rishikesh Tour 1675 मीटर की ऊंचाई पर, स्वर्ग आश्रम के ऊपर एक पहाड़ी पर स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर भारत गणराज्य में भगवान शिव को समर्पित सबसे महत्वपूर्ण मंदिरों में से एक है. भगवान शिव ने इसी स्थान पर समुद्र मंथन से निकला विष ग्रहण किया गया था. उसी समय उनकी पत्नी, पार्वती ने उनका गला दबाया जिससे की विष उनके पेट तक नहीं पहुंचे. इस तरह, विष उनके गले में बना रहा. विषपान के बाद विष के प्रभाव से उनका गला नीला पड़ गया था. गला नीला पड़ने के कारण ही उन्हें नीलकंठ नाम से जाना गया था.

प्रसिद्ध: तीर्थयात्रा
टिकट: कोई प्रवेश शुल्क नहीं
ओपनिंग टाइमिंग: सभी दिन सुबह 6 से शाम 7 बजे तक खुला रहता है

Things to Do near Neelkanth Temple

स्मृति चिन्ह के लिए खरीदारी करें.

The Beatles Ashram

Rishikesh Tour  की कड़ी में बीटल्स आश्रम अहम जगह है. यह ऋषिकेश के गंगा नदी के किनारे बसे राजाजी नेशनल पार्क के अंदर स्थित है. यह जगह तीन दशकों से बंद रहने के बाद फिर से पर्यटकों के लिए खोला गया था. उत्तराखंड के जंगल विभाग द्वारा इस जगह के पास ही एक नया योगा और मेडिटेशन सेंटर है. महर्षि योगी भारत के बड़े मशहूर आध्यात्मिक गुरु थे. फरवरी 1968 में बीटल्स ने महर्षि महेश योगी के आश्रम में  मेडिटेशन के एक सत्र में भाग लेने के लिए भारतीय शहर ऋषिकेश की यात्रा की थी. यह वह यात्रा थी जिसने भारतीय आध्यात्मिकता के विश्व के दृष्टिकोण को बदल दिया. यह बीटल्स का सबसे उत्पादक समय माना जाता था, उन्होंने इस यात्रा के दौरान विभिन्न गीत लिखे, जिनमें से अधिकांश ने मीडिया का ध्यान और व्यावसायिक सफलता प्राप्त की.

Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places
Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places

प्रसिद्ध: इतिहास, आध्यात्मिकता
टिकट: 3 घंटे के लिए 150 रु (भारतीय) और 600 रु (विदेशी)
ओपनिंग टाइमिंग: सूर्यास्त तक हर समय सभी दिन खोले जाते हैं

Things to Do near Beatles Ashram

राजाजी नेशनल पार्क घूमे
जीप सफारी

Swarg Ashram

गंगा नदी के बाएं किनारे पर, भारत में सबसे पुराने योग आश्रमों में से एक स्थित है. स्वर्ग आश्रम में राम और लक्ष्मण झूला के बीच का पूरा क्षेत्र शामिल है और इसे संत स्वामी विशुद्धानंद की स्मृति में बनाया गया था. यह उन लोगों के लिए एक आदर्श स्थान है जो इस पवित्र शहर में एकांत चाहते हैं. आप नदी तट के पास घंटों तक बैठकर ध्यान कर सकते हैं और शिवालिक से सूरज को उगते हुए देख सकते हैं.

प्रसिद्ध: योग, आध्यात्मिकता, ध्यान
टिकट: घूमने के लिए कोई प्रवेश शुल्क नहीं, आश्रम में रहने और योग सत्र में भाग लेने के लिए शुल्क लगता है
ओपनिंग टाइमिंग: दिन में सभी दिन खुला रहता है
टाइमिंग: आमतौर पर आस-पास के क्षेत्रों का पता लगाने के लिए 2.5 घंटे तक

Things to Do near Swarg Ashram

लंबी पैदल यात्रा
ध्यान
त्रिवेणी घाट पर गंगा आरती में भाग लें
प्राचीन राम और लक्ष्मण झूला पर जाएं

Parmarth Niketan

1942 में पूज्य स्वामी शुकदेवानंद जी महाराज द्वारा स्थापित, परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में स्थित एक आश्रम है. यह ऋषिकेश में एक हजार से अधिक कमरों के साथ सबसे बड़ा आश्रम है. ठहरने की सुविधाओं के अलावा परमार्थ निकेतन आयुर्वेदिक और संगीत द्वारा भी उपचार करता है. यह गंगा नदी के तट पर महान हिमालय के बीच स्थित है. हर वर्ष जब यहां अन्तर्राष्ट्रीय योग समारोह का आयोजन किया जाता है तब भारी संख्या में पर्यटक यहां आते हैं.

इस आश्रम में लोग बड़ी संख्या में योग, ध्यान और इस प्रकार की अन्य कलाएं सीखने के लिये आते हैं. इसके अलावा प्राकृतिक चिकित्सा, आयुर्वेद चिकित्सा एवं आयुर्वेद प्रशिक्षण आदि भी दिए जाते हैं. आश्रम में भगवान शिव की 14 फुट ऊंची प्रतिमा स्थापित है. आश्रम के प्रांगण में ‘कल्पवृक्ष’ भी है जिसे ‘हिमालय वाहिनी’ के विजयपाल बघेल ने रोपा था.

Things to Do near Parmarth Niketan

योग और ध्यान
सूर्यास्त के समय गंगा आरती
आयुर्वेदिक उपचार

Rajaji National Park

भारत के प्रमुख वन्यजीव अभ्यारण्यों में गिना जाना वाला यह राजाजी राष्ट्रीय पार्क पक्षियों की 315 प्रजातियों और स्तनपायी की 23 प्रजातियों का घर है. एशियाई हाथी, चीता, भालू, कोबरा, जंगली सुअर, सांभर, भारतीय खरगोश, जंगली बिल्ली और कक्कड़ जैसे जन्तु इस पार्क में पाए जाते हैं. चीता, सुस्त भालू, हिरण और भौंकने वाले हिरण भी इस पार्क में देखे जा सकते हैं. गंगा नदी पार्क में 24 किमी की दूरी तय करती है. पार्क में साल, पश्चिमी गंगा के नमी वाले जंगल, उत्तरी शुष्क पतझड़ वाले वन और खैर-शीशम के जंगल पाये जाते हैं.

प्रसिद्ध: वन्यजीव, साहसिक
टिकट: 3 घंटे के लिए 150 रुपए (भारतीय) और 600 रुपए (विदेशी)
ओपनिंग टाइमिंग: सभी दिन (सुबह 6 से 9 बजे और दोपहर 3 से शाम 6 बजे) खोलें जाते हैं.
टाइमिंग: 3 घंटे

Things to Do at Rajaji National Park

जीप सफारी
कॉटेज में रहें
सुरेश्वरी देवी मंदिर जाएं

Kaudiyala

ऋषिकेश-बद्रीनाथ राजमार्ग पर 380 मीटर की ऊंचाई पर स्थित कौडियाला एक प्रमुख पर्यटक स्थल है. गंगा नदी के तट पर स्थित कौडियाला घने जंगलों से घिरा हुआ है. कौडियाला विभिन्न प्रकार के जंगली जानवरों का घर है जिन्हें पर्यटक अपनी यात्रा के दौरान देख सकते हैं. साहसिक गतिविधियों में रुचि रखने वाले लोग यहां पर कैम्प करके प्रशिक्षित पेशेवरों (Trained professionals) की देखरेख में रिवर राफ्टिंग का आनन्द ले सकते हैं.

प्रसिद्ध: साहसिक खेल
टिकट: कोई प्रवेश शुल्क नहीं,एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए अतिरिक्त शुल्क
ओपनिंग टाइमिंग: हर समय खुला रहता है
अवधि: गतिविधि पर निर्भर करता है

Things to Do at Kaudiyala

ट्रेकिंग
कैंपेनिंग
कयाकिंग
रैपलिंग
वाटर राफ्टिंग

Shivpuri

ऋषिकेश से 19 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, शिवपुरी शहर गंगा नदी के तट पर स्थित है और इसका नाम यहां एक मंदिर के नाम पर रखा गया है जो भगवान शिव को समर्पित है. हाल के वर्षों में, यह जगह वाटर एडवेंचर स्पोर्ट्स-खासकर पानी राफ्टिंग के लिए प्रसिद्ध हो गई है. गंगा नदी को अपने सबसे सुंदर रूप में अनुभव करने के लिए यहां एक यात्रा जरूर की जानी चाहिए.

Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places
Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places

 प्रसिद्ध: साहसिक खेल, साहसिक,
टिकट: कोई प्रवेश शुल्क नहीं, एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए अतिरिक्त शुल्क
ओपनिंग टाइमिंग: हर समय खूला रहता है
टाइमिंग: गतिविधि पर निर्भर करता है

Things to Do at Shivpuri

ट्रेकिंग
कैंपेनिंग
कयाकिंग
रैपलिंग
रिवर राफ्टिंग

Jumpin heights

ऋषिकेश के मोहनचट्टी में बना जंपिन हाइट्स का यह रोमांचक नजारा आपको भी रोमांचित कर देगा. पहले आपको डर लगेगा, लेकिन जब डर से पार आ जाएंगे तो लगेगा कुछ जीत कर आए हैं. एडवेंचर का यह मजा लेना है तो चले जाएं ऋषिकेश के जंपिन हाइट्स में. साहस की इस अग्नि परीक्षा को जो पास करता है, उसे लगता है कि जैसे दुनिया जीत ली है. बंजी जंपिंन में आपके साथ होगी एक्सपर्ट की टीम.

Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places
Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places

प्रसिद्ध: साहसिक खेल
टिकट: साहसिक खेलों पर 100 रुपए प्रवेश शुल्क और अतिरिक्त शुल्क
ओपनिंग टाइमिंग: पूरे दिन सुबह 9:30 से शाम 4 बजे तक खुला रहता है
टाइमिंग: गतिविधि पर निर्भर करता है आमतौर पर 3.5 घंटे तक

Things to Do at Jumpin heights

Flying Fox.
Giant Swing
बंजी जंपिंन

Narendra Nagar

ऋषिकेश से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, नरेंद्र नगर उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले में स्थित है और समुद्र तल से 1,326 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. यह शहर 1919 में अस्तित्व में आया, जब टिहरी गढ़वाल शासक महाराजा नरेंद्र शाह ने अपनी राजधानी को ओड़थली या नरेंद्र नगर के शांत स्थान पर स्थानांतरित कर दिया था.

प्रसिद्ध: स्पा, प्रकृति, दृष्टिकोण
टिकट: कोई प्रवेश शुल्क नहीं
ओपनिंग टाइमिंग: सभी दिन खुले रहते हैं
टाइमिंग: आधा दिन

Things to Do at Narendra Nagar

आनंदा स्पा रिज़ॉर्ट में स्पा कराएं

कुंजापुरी मंदिर जाएं
नंदी बैल की मूर्ति देखें
राधा कृष्ण मंदिर जाएं

शहर के आसपास के अन्य आकर्षणों में त्रिवेणी घाट, कुंजापुरी देवी मंदिर, लक्ष्मण मंदिर, गरुड़ चट्टी झरना और त्रयम्बकेश्वर शामिल हैं.

यह शहर न केवल हिंदू सांस्कृतिक विरासत और इसके विभिन्न तीर्थ स्थलों से समृद्ध है, बल्कि एक सुरम्य स्थान पर स्थित है जो अपने पर्यटकों को प्रकृति के करीब महसूस कराता है.

Do not miss these tourist places in Uttarakhand

अल्मोड़ा में शीर्ष पर्यटन स्थल
मुक्तेश्वर में शीर्ष पर्यटक स्थल
टिहरी में शीर्ष पर्यटन स्थल

Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places
Rishikesh Tour If you visit Rishikesh, do not miss these 10 places

Best time to visit Rishikesh

ठण्ड (अक्टूबर से फरवरी तक) में यहां का तापमान 19 से 27 डिग्री सेल्सियस तक रहता है, जोकि घूमने के लिए बहुत ही अच्छा है, इस समय लोग राफ्टिंग का आनंद उठा सकते है.
गर्मी (मार्च से जून तक) में यहां का तापमान 35 डिग्री सेल्सियस होता है. इस समय बहुत गर्मी की वजह से लोग ज्यादा नहीं आते. लेकिन शाम के समय यहां ठंडक रहती है और लोग इस समय आनंद का अनुभव करते हैं.
यहां मानसून (जून से सितम्बर तक) में लोग बारिश का मजा लेते हैं. ऋषिकेश एक बहुत सुंदर जगह है, जोकि गर्मी में गर्म और ठंड में ठंडी रहती है. इस मौसम में राफ्टिंग नहीं होती.

How to Reach Rishikesh

ऋषिकेश का सबसे करीबी एअरपोर्ट देहरादून का जॉली ग्रांट है. यहां दिल्ली, लखनऊ से डायरेक्ट फ्लाइट होती है. इस एअरपोर्ट से ऋषिकेश के लिए टैक्सी, बस आसानी से मिल जाती है.
ऋषिकेश जाने के लिए, हरिद्वार, देहरादून, दिल्ली से बहुत सी बस चलती है, जो हर तरह की होती है.
ऋषिकेश का करीबी रेलवे स्टेशन हरिद्वार है, जहां से देश के हर कोने से ट्रेन जुड़ी हुई है.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे