THAILAND का नाम सुनते ही क्यों क्रेजी हो जाते हैं भारतीय ?

( THAILAND ) थाईलैंड का नाम सुनते ही क्यों क्रेजी हो जाते हैं भारतीय? क्यों भारतीयों की सबसे पसंदीदा जगह है ( THAILAND ) थाईलैंड ? क्या आपको पता है। नहीं ना…हम आपको बताएंगे…पढ़ें ये ऑर्टिकल

THAILAND पहुंचना बेहद आसान: आजकल थाईलैंड जाना कोई दूर की कौड़ी नहीं है। मन किया, बैग पैक किया और उड़ गए थाईलैंड के लिए, जी हां- दिल्ली या भारत के दूसरे एयरपोर्ट से थाईलैंड की राजनधानी बैंकॉक पहुंचने में 4 से 5 घंटे का वक्त लगता है। इसके अलावा वहां की करेंसी सस्ती होने की वजह से भी भारतीय पर्यटकों के लिए ये फेवरेट डेस्टिनेशन है। अगर आप किसी टूर एंजेसी के जरिए भी पैकेज लेते है तो आपको फायदा ही होगा। 25 से 30 हजार रूपये में वापसी फ्लाइट, ठहरना और खाना और दर्शनीय स्थल घूम कर आ जाएंगे।

वीजा मिलना आसान: बहुत सारे खूबसूरत देश जैसे यूरोप, USA  और मध्य पूर्व के देशों में घूमने के लिए समय से पहले वीजा लेना जरूरी होता है, जबकि थाईलैंड में ऐसा नहीं है। थाईलैंड में इंडिया समेत कई दूसरे देशों के लिए वीजा ऑन अराइवल की सुविधा है। इसलिए आप वीकेंड के आखिरी में भी यहां जाने का प्लान बना सकते हैं।

THAILAND में सस्ती शॉपिंग: थाईलैंड जाए और आप शॉपिंग ना करें ये कैसे हो सकता है। ये जगह खरीददारों के लिए स्वर्ग से कम नहीं है। यहां आप कपड़े, जूते, इलेक्ट्रॉनिक्स सामान जैसी चीजें सस्ते दामों पर खरीद सकते हैं। यहां की ज्यादातर चीजें ट्रेंडी ही रहती हैं।

इंदिरा मार्केट: अगर आप बैंकॉक में है तो इंदिरा मार्केट जरूर जाए। यहां पर आपको सस्ता सामान मिलेगा। लेकिन आपको करना ये है कि वहां के Shopkeeper से अच्छे से Bargaining करें।

चाटूकच बाजार: चाटूचक बाजार साउथ ईस्ट एशिया का सबसे बड़ा बाजार है और यहां 8000 से ज्यादा स्टाल हैं। अगर आप कपड़े, सामान, चमड़े का सामान, ज्वैलरी, पौधे या दुर्लभ और आकर्षक जानवर खरीदना चाहते हैं तो चाटूचक बाजार में आपको कम दामों पर बहुत सारी वैरायटी मिल जाएगी। यह बाजार केवल शुक्रवार, शनिवार और रविवार को सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक खुलता है।

पढ़ें: BANGKOK में कहां होती है POOL PARTY? आप भी जान लिजिये

दामओएन सादुआ का बाजार: ये बाजार बैंकाक से ज्यादा दूर नहीं है। इस कारण भी बहुत से पर्यटक यहां आना पसंद करते हैं। थाईलैंड के इस तैरते बाजार में हस्तशिल्प से लेकर खाने पीने की चीजें मिलती हैं। तस्वीरें, बर्तन, मूर्तियां और थाईलैंड की संस्कृति की छाप लिए कई सजावटी चीजें यहां के तैरते बाजार में बिकती हैं।

पैसा वसूल टूर: यह तो आप भी जानते हैं कि भारतीयों के लिए पैसा कितना अहम है। थाईलैंड में हर उम्र के लिए कुछ ना कुछ खास हैं। थाईलैंड में कोरल द्वीप, मंदिर और मठ हर शहर में हैं। उत्तरी थाईलैंड में शांत गांव, हनीमून मनाने वालों के लिए फुकेट, क्राबी, कोह समुई, चियांग माई/चियांग राय द्वीप समूह, नाईट टूर करने वाले लोगों के लिए पटाया बेस्ट है। थाई व्यंजन और उनके स्ट्रीट फूड इतने स्वादिष्ट होते हैं कि आप खाए बिना रह नहीं पाएंगे। थाईलैंड मिडिल और अपर मिडिल क्लास यात्रियों को बहुत पसंद आता है और इसका एक बड़ा कारण इस जगह का पैसा वसूल अनुभव है।

युवा रहते हैं क्रेजी: थाईलैंड के बैंकॉक में इतने ज्यादा समुद्री बीच हैं उतने भारत में नहीं है, इसलिए ये जगह भारतीयों को पसंद आती है। वहीं दूसरी वजह है यहां के मसाज पार्लर्स, मसाज पार्लर्स बैचलर्स और यंग लोगों के लिए पहली पसंद हैं। यहां पर भारतीय कसीनो और मसाज पार्लर्स का लुफ्त उठाने आते हैं। बता दे की बैंकॉक अपने मसाज पार्लर्स के लिए भी बेहद मशहूर है और यहां आए लोग इनका मजा उठाए बिना नहीं जाते है।

सेल्फी लेने के लिए शानदार लोकेशन:  हम सभी जानते हैं की भारतीयों को अपनी तस्वीर लेने का कितना शौक है। यहां के खूबसूरत बीच के अलावा यहां कई सुंदर-सुंदर वन भी मौजूद हैं, जहां सेल्फी और भी अच्छी आती हैं। इस वजह से भारत के लोगों को यहां आना लुभाता है।

पढ़ें: Hong Kong से जुड़े 31 Fact जिन्हें जानना जरूरी है

कैसा रहता है मौसम?: वैसे तो बैंकॉक पूरे साल पर्यटक आते रहते हैं, लेकिन यहां आने का सबसे अच्छा समय नवंबर से मई के बीच होता है। इसका कारण यह है कि थाईलैंड मई से अक्टूबर के बीच दक्षिण पश्चिम मानसून और अक्टूबर से फरवरी के बीच उत्तर पूर्व मानसून से प्रभावित रहता है। जिससे पर्यटकों को घूमने में काफी असुविधा होती है।

Sandeep Jain

पत्रकार की नजर से.....चलो घूम आते हैं