हवाई यात्रा के दौरान खो जाए सामान, तो इन बातों का रखें ख्याल

Air travel : समय बचाती है हवाई यात्रा. आपको दूर जाना है और ट्रेन में ज्यादा समय लगने वाला है तो आप हवाई जहाज से जाने का विकल्प चुनते हैं. लेकिन आजकल हवाई जहाज से यात्रा करने वालों को सामान खो जाने की भारी समस्या का सामना करना पड़ता है. Air travel यात्रा में सामान खो जाए तो यात्रा का आधा मजा वहीं खत्म हो जाता है.

यह दुर्घटना आए दिन किसी न किसी यात्री के साथ हो जाती है. एयरलाइन अपने नियमानुसार अनुसार खोए सामान का कुछ प्रतिशत ही हर्जाना देती है पर अक्सर सामान चोरी हो जाने के कारण लेने के देने पड़ जाते हैं. समय और पैसा तो नष्ट होता ही है. हवाई यात्रा करने से पहले और उड़ान के समय कुछ बातों को ध्यान में रखें.

Air Travel Tips: एयरोप्लेन में इन 7 गलतियों की चुकानी पड़ती है भारी कीमत

Luggage be light

सफर में अपने साथ उतना ही सामान हो जितना जरूरी हो. भारी लगेज उठाने में परेशानी होती है. इनमें कीमती चीजें- कैमरा, लैपटॉप, जरूरी दस्तावेज, जेवर, पासपोर्ट आदि बंद करके चेकइन ना करें. ये जरूर है कि सामान खो जाने पर एअर लाइन्स आपको मुआवजा जरूर देगी लेकिन वो पर्याप्त नहीं होता. इसलिए कम ही सामान साथ रखें ये जरूरी है.

Do not carry expensive things

सबसे पहले तो अपने साथ महंगी और कीमती चीजें साथ ना रखें. अगर इन्हें ले जाना भी पड़े तो बैग में रखकर चैकइन ना करें. इन चीजों को हैंड बैग में रखकर विमान में अपने साथ ले जाया जा सकता है. इससे सामान खोएगा नहीं और दूसरा आपको सामान के आने का बेल्ट पर इंतजार नहीं करना पड़ेगा.

घुमक्कड़ी की सीरीज में ट्रेड फ़ेयर (Trade Fair) भी जोड़ लें

Bag or suitcase should be of different colors

एअरपोर्ट पर सामान ले जाने वाले बैग या सूटकेस दूसरों से अलग तरह के हों ये ध्यान रखें. ताकि बेल्ट पर आपको अपने सामान की पहचान जल्दी और आसानी से हो सके. इससे आप बैग चोरों से बच भी पाएंगे. शरीफ से नजर आने वाले चोर दूसरों के बैग आसानी से पार कर ले जाते हैं क्योंकि काले-नीले रंग के कॉमन कलर्स पर ध्यान नहीं जाता और आपका सामान आप तक पहुंचने से पहले ही चोरों के हाथ लग जाता है.

ऐसे में अलग रंग होने पर आपका ध्यान सामान पर विशेष रूप से बना रहेगा. अपने लगेज पर कुछ आकर्षक रंग की पट्टिका, बेल्ट या रिबन लगाकर अलग लुक दे सकते हैं ताकि उसे दूर से ही पहचान पाएं.

Suitcase is normal

हवाई सफर में चोरों को महंगे और कीमती सूटकेस अट्रैक्ट करते हैं. इसलिए लैदर के बड़े आकार वाले कीमती नजर आने वाले सूटकेस लेकर ना जाएं. इनके चोरी होने की ज्यादा संभावनाएं रहती हैं. चोरों को उनमें कीमती सामान होने की आशंका रहती है और वो विशेष रूप से इन्हें ही उड़ाना चाहते हैं.

जानिए दरभंगा से दुबई तक की यात्रा अब कैसे होगी आसान

When the goods are stolen

इतनी सावधानियां बरतने के बावजूद अगर आपका बैग चोरी हो जाए तो तुरंत बैगेज क्लेम काउन्टर पर चले जाएं. इससे बैग चोर को जल्दी पकड़े जाने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. एयरलाइन्स सामान्यत: एक निर्धारित समय सीमा के अंदर ही सामान खो जाने की शिकायत दर्ज कर सकती हैं. यदि उस समय सीमा के बाद शिकायत की जाती हैं तो हर्जाने की उम्मीद कम रह जाती है.

Stay alert

जब आप बेल्ट पर से अपना सामान उठाते हैं तो अपने दूसरे बैग और लगेज की निगरानी बराबर रखें. हो सके तो अपने सामान की ट्राली अपने साथ वाले व्यक्ति या बच्चों को सौंप दें. ऐसा करने से भी सामान सुरक्षित रहेगा.

कोराना के कारण गुजरात के सापुतारा हिल स्टेशन में पर्यटकों का आना हुआ कम

Avoid connecting flight

बाहर जाते समय कोशिश करें कि दूसरे शहर की सीधी फ्लाइट लें. कनेक्टिंग फ्लाइट में उड़ान के चेंज होने से भी कई बार सामान दूसरी फ्लाइट में चला जाता है या फिर चोरी हो सकता है. जितनी ज्यादा कनेक्टिंग उड़ानें हम लेते हैं सामान खोने की संभावनाएं भी उतनी ही बढ़ जाती हैं.

Information and security required

टिकट बुक करवाते समय एअर लाइन्स से बीमा जरूर करवाएं। सामान्य रूप से यात्रा में सामान खोने पर पांच से आठ प्रतिशत तक का व्यय ही चुकाया जाता है. पर अच्छा यही है कि इस विषय में नवीनतम जानकारी एअरलाइन से ले ली जाय. जब सामान हमारा है तो सुरक्षा हमसे बेहतर और कौन कर सकता है. एक बार सामान खो जाए तो कुछ भी अपने हाथ में नहीं रहता. सुरक्षा में चूक ना हो इसी का ध्यान रखा जाना ज्यादा बेहतर होगा.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!