देश की Best Luxury Train में 2 दिन का ‘फ्री सफर’, ये है तरीका

अक्सर हमारी तमन्ना होती है कि हम विश्व की सबसे लग्जरी ट्रेन में सफर करें। लेकिन इसके लिए जो पैसे की जरूरत होती है उसकी वजह से हम ये नहीं कर पाते हैं। लेकिन अब ये समस्या खत्म हो गई है। क्योंकि अब 5 दिन के पैसों में आप 7 दिन की यात्रा कर पाएंगे। ये यात्रा अब सस्ती ही नहीं हुई है बल्कि इसमें सुविधाएं भी बढ़ गई है। लेकिन इससे पहले हम आफको बताते हैं कि जिस लग्जरी ट्रेन की बात हम कर रहे हैं वो कौन सी है। दरअसल इस ट्रेन का नाम है डेक्कन ओडिसी। ये ट्रेन खास रूप से महाराष्ट्र, गोवा जैसे शहरों की सैर करवाती है। वैसे तो महाराष्ट्र की सैर करने के लिए आपको कई ट्रेनें मिल जाएंगी लेकिन डेक्कन ओडिसी की बात ही कुछ अलग है।

पैलेस ऑन व्हील्स की तर्ज पर बनाई गई इस ट्रेन का सुकून भरा सफर आपकी महाराष्ट्र यात्रा का मजा दोगुना कर देगा। ये ट्रेन महाराष्ट्र में पर्यटन के लिहाज से महत्त्वपूर्ण सभी क्षेत्रों को कवर करती है। आपको बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से चलकर ये ट्रेन रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, गोवा, बेलगाम, कोल्हापुर, पुणे, नासिक, औरंगाबाद, अजंता-एलोरा और फिर वापस मुंबई लौटती है। ये विश्व की सबसे महंगी ट्रेन यात्रा में से एक है। डेक्कन ओडिसी के अलावा भारत में 2 और लग्जरी ट्रेन चलती है, एक तो पैलेस ऑन व्हील्स और दूसरी महाराजा एक्सप्रेस।

ये भारत में यात्रा करने वाले लग्जरी ट्रवलर्स के बीच में काफी मशहूर है। डेक्कन ओडिसी दरअसल एक सुपर डीलक्स लग्जरी ट्रेन है जिसे महाराष्ट्र टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड भारत सरकार के रेल मंत्रालय के साथ मिलकर चलाता है। सुख-सुविधाओं के मामले में इस ट्रेन का देश में वही स्थान है जो कि साउथ अफ्रीका में ब्लू ट्रेन और यूरोप में ओरिएंट एक्सप्रेस का है। इस ट्रेन का शानदार इंटीरियर, स्वादिष्ट भोजन और इसकी बेहतरीन साइट्स आपके सफर को यादगार बना देगी।

21 कोचों वाली इस ट्रेन में 12 यात्री कोच हैं। यहां आपको स्पा और बार तक का लुत्फ उठाने का मौका मिलेगा। इसके अलावा इस ट्रेन में टीवी, केबल कनेक्शन, सेल फोन, चैनल म्यूजिक और फॉरेन एक्चेंज जैसी कई सहूलियतें भी मिलेंगी। सात दिनों में महाराष्ट्र दर्शन कराने वाली इस ट्रेन का सफर हफ्ते में बुधवार के दिन मुंबई से शुरू होता है। सफर के दूसरे दिन ये ट्रेन सिंधुदुर्ग नगरी पहुंचती है। यहां आपको सिंधुदुर्ग का प्रसिद्ध किला, तरकार्ल बीच, धमपुर गांव देखने का मौका मिलेगा। वहीं इसके बाद तीसरे दिन ये ट्रेन गोवा पहुंचती है। यहां पर आप सेंट ऑगस्टिन चर्च जैसे तमाम मशहूर चर्च और अन्य म्यूजियमों को देख सकते हैं। चौथे दिन ये ट्रेन आपको गोवा के वास्को की सैर कराएगी। और यहां पर आप प्रसिद्ध हिंदू मंदिर मंगेशी, साफा मस्जिद, सहकारी स्पाइस फार्म और चंदोर गांव में स्थित मेनेजेज ब्रिगेंजा हाउस को देख सकते हैं। इसके बाद ट्रेन का सफर आपके लिए और भी रोमांच से भरा हुआ हो जाता है। यात्रा के पांचवें दिन ट्रेन कोल्हापुर पहुंचती है और यहां पर आप दर्शन करेंगे प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर के, इसके अलावा यहां पर आपको न्यू पैलेस म्यूजियम निहारने का मौका भी मिलता है।

जिसके बाद आप इस यात्रा के छठे दिन की तरफ बढ़ते हैं और सातवें दिन आपकी आंखों को वो अनुभव मिलता है, जिसे आप कभी भी नहीं भूल सकेंगे। छठे दिन आपको औरंगाबाद-दौलताबाद में एलौरा की गुफाएं और बिबी का मकबरा देखने का मौका मिल जाएगा। वहीं सातवें और आखिरी दिन पूरे विश्व में प्रसिद्ध अंजता की गुफाओं में ये ट्रेन आपको लेकर जाएगी और इन गुफाओं को देखने का आपको मौका मिलेगा। इसी दिन आप नासिक में भी घूमेंगे। महाराष्ट्र के इन सभी बेहतरीन स्थानों के दर्शन कराने के बाद ये ट्रेन आठवें दिन वापिस मुंबई की तरफ लौट आती है।

अगर बात करें इसके कम हुए दामों की तो इसमें पहले की तुलना में काफी कमी की गई है। पहले जिस डीलक्स सिंगल के लिए आप 4 लाख 19 हजार रुपये देते थे, अब इसकी जगह पर आपको 3 लाख ही देने होंगे। वहीं डीलक्स डबल के लिए अब आपको 4 लाख 29 हजार ही देने होंगे जबकि पहले इसका दाम 6 लाख से भी ज्यादा का था। इसके अलावा सबसे महंगा जो प्रसिडेंशियल सूट होता है उसके लिए आपको पहले 9 लाख 8 हजार रुपये देने होते थे, लेकिन अब ये दाम घटकर 6 लाख 48 हजार हो गया है।

 

साऊारः TRIPOTO

 

News Reporter
एक लेखक, पत्रकार, वक्ता, कलाकार, जो चाहे बुला लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: