https://business.facebook.com/settings/security/business_verification?business_id=361906945015389

इन रूट्स पर 40 Clone Trains चलने से अब मिलेगी सिर्फ़ कन्फर्म टिकट

कोरोना संकट के चलते रेलवे (Railway) ने अपनी सभी सेवाओं पर रोक लगा रखी थी. अनलॉक-4 में अब धीरे-धीरे रेलवे ( Railway) फिर से अपनी सेवाएं शुरू कर रहा है. जिससे यात्रियों (Passengers) को किसी तरह की परेशानी ना उठानी पड़े. इसी के चलते रविवार को रेलवे (Railway) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि रेलवे (Railway) की तरफ़ से सोमवार से शुरू की जाने वाली 40 ‘क्लोन’  ( Clone Trains ) (मूल रेलगाड़ी जैसी ही दूसरी रेलगाड़ी) ट्रेनों (Trains) के जरिए ज्यादा भीड़भाड़ वाले रुट पर वेटिंग लिस्ट (Waiting list) वाले पैसेंजर (Passengers) अब अपनी मंजिल पर पहले की ट्रेन (Train) के मुकाबले दो-तीन घंटे पहले ही पहुँचने की उम्मीद कर सकते हैं.

अधिकारी ने ये भी बताया कि मुख्य रूप से थर्ड एसी (Third AC) की कम ठहराव, ज्यादा गति और पहले की ट्रेन (Train) के मुकाबले समय से पहले पहुँचने वाली ये क्लोन ट्रेन (Clone Trains) उन यात्रियों के लिये बहुत सुविधाजनक हैं जिन्हें किसी इमरजेंसी कारणों से या एकदम आखिर में अपनी यात्रा (Journey) की योजना  (Planning) बनानी पड़ी हो. अधिकारी ने कहा कि उनका स्टॉपेज (Stoppage) ‘ऑपरेशनल हॉल्ट’ या रास्ते में पड़ने वाले मंडल मुख्यालयों (अगर कोई हों तो) तक ही सीमित होगा, जिससे ट्रेन (Train) की यात्रा (Journey) के दौरान कम समय लगेगा.

 

लंबे समय से बंद चल रही Local Train को मिल सकती है दोबारा से चलाये जाने की हरी झंडी

 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि ये क्लोन ट्रेन ( Clone Trains ) अपने डेस्टिनेशन (Destination) पर दो या तीन घंटे पहले पहुंचेंगी. इसी तरह इनकी योजना (Planning) बनाई गई है. उन्होंने कहा कि हम ऐसा मान कर चल रहे हैं कि इस दौरान लोग सिर्फ़ इमरजेंसी जरूरतों (Emergency Needs) के लिये ही यात्रा (Journey) करेंगे. जिसके चलते हम ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ज्यादा भीड़भाड़ वाले रास्तों पर हम सिर्फ़ उन सभी यात्रियों (Passengers) को इकट्ठा कर सकें जो यात्रा (Journey) करना चाहते हैं.

 

राजाओं जैसी है लाइफ़स्टाइल, पहनता है 1.36 करोड़ की घड़ी, नाम है Dan Bilzerian

 

इसी के साथ ही साथ रेलवे (Railway) ने उच्च मांग वाले मार्गों पर 20 ट्रेनें (Trains)  शुरू की हैं. जिनमें से अधिकतर ट्रेन (Train) बिहार, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और दिल्ली, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक के बीच हैं. इनमें से 18 डिब्बों वाली 19 ट्रेनों (Trains) के टिकट (Ticket) का किराया हमसफर एक्सप्रेस के बराबर ही लिया जाएगा. जबकि वहीं लखनऊ और दिल्ली की यात्रा (Jouney) करने वाले यात्रियों के (Passengers) लिए चलाई जाने वाली 22 डिब्बों वाली क्लोन ट्रेन ( Clone Trains ) का किराया जनशताब्दी एक्सप्रेस के बराबर देना होगा.

रेलवे (Railway) की दी हुई जानकारी के चलते इन ट्रेनों (Trains) की अग्रिम बुकिंग (Booking) 10 दिन तक की होगी और इन ट्रेनों (Trains) के लिए बुकिंग (Bookilng)  19 सितंबर को सुबह आठ बजे शुरू हो चुकी है.

Anchal Shukla

मैं आँचल शुक्ला कानपुर में पली बढ़ी हूं। AKTU लखनऊ से 2018 में MBA की पढ़ाई पूरी की। लिखना मेरी आदतों में वैसी शामिल है। वैसे तो जीवन के लिए पैसा महत्वपूर्ण है लेकिन खुद्दारी और ईमानदारी से बढ़कर नहीं। वो क्या है किमैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हें याद रखती हूँ,मैं बातें भूल भी जाऊं तो लहज़े याद रखती हूँ,ज़रा सा हट के चलती हूँ ज़माने की रवायत से,जो सहारा देते हैं वो कंधे हमेशा याद रखती हूँ।कुछ पंक्तिया जो दिल के बेहद करीब हैं।"कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोयेऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये"