ट्रेन के सफर में समान को लेकर न हों परेशान, रेलवे पहुंचाएगी आपके घर तक सामान

railway- इंडियन रेलवे सिस्टम में सुधार के लिए नए-नए कदम उठा रहा है. मुसाफिरों की सहूलत के लिए अब रेलवे ने एक और अच्छा कदम उठाया है. जिसके तहत मुसाफिरों को अपने सामान कि फिक्र नहीं करनी पड़ेगी. क्योंकि रेलवे अब सफर के साथ-साथ आपका सामान आपके घर से आपकी रेलगाड़ी तक भी पहुंचाएगा. पहली बार भारतीय रेल बैग्स ऑन व्हील्स सेवा को शुरू करने जा रहा है.

जानकारी के मुताबिक शुरुआत में यह सर्विस नई दिल्ली, दिल्ली जं., हजरत निजामुद्दीन, दिल्ली छावनी, दिल्ली सराय रोहिल्ला, गाजियाबाद और गुरुग्राम रेलवे स्टेशनों पर ही मिलेगी. इसके लिए रेलवे के ऐप के ज़रिए पहले से बुकिंग करनी होगी.

इस सर्विस के तहत ट्रेन के स्टेशन से रवाना होने से पहले आपका सामान आपकी ट्रेन तक पहुंचाना रेलवे की ज़िम्मेदारी होगी. डोर टू डोर सर्विस के लिए मुसाफिरों को अलग से फीस अदा करनी पड़ेगी.

जानें, रेल की पटरियों के बीच क्यों लगे होते हैं पत्थर

Bags on Wheels Service

बैग्स ऑन व्हील्स सर्विस के तहत आपको अपने सामान की रेलवे के ऐप के जरिए पहले से बुकिंग करनी होगी. ट्रेन के स्टेशन से रवाना होने से पहले आपका सामान आपकी ट्रेन तक पहुंचाना रेलवे की जिम्मेदारी होगी. इस सर्विस के लिए मुसाफिरों को अलग से शुल्क देना होगा.

उत्तर और उत्तर-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि भारतीय रेल लगातार नए उपायों से अपनी आमदनी बढ़ाने का प्रयास कर रही है. इस दिशा में काम करते हुए दिल्ली मंडल ने हाल ही में गैर-किराया-राजस्व अर्जन योजना (NINFRIS) के तहत ऐप आधारित बैग्स ऑन व्हील्स सेवा शुरू की है. इसके लिए ठेका छूटने ही वाला है. भारतीय रेल की रेलयात्रियों के लिए यह अपनी तरह की पहली सेवा होगी.

Bullet train से अब आप जेवर से आगरा आप पहुंच सकेंगे बस 33 मिनट में

This is how booking of goods will happen

अगर आप भी बैग्स ऑन व्हील्स सर्विस के तहत अपने सामान की बुकिंग करना चाहते हैं तो आपको  बीओडब्ल्यू ऐप (BOW App-Bags on Wheels) पर सामान को घर से रेलवे स्टेशन तक लाने या फिर रेलवे स्टेशन से घर तक पहुंचाने के लिए अप्लाई करना होगा. यात्री का सामान सुरक्षित तरीके से लेकर उसके कोच या फिर घर तक पहुंचाने का काम ठेकेदार द्वारा किया जाएगा. इस सुविधा के लिए नाम मात्र के शुल्क पर मुसाफिरों को सामान की डोर-टू-डोर सेवा फर्म द्वारा मुहैया कराई जाएगी. भारती रेल की बैग्स ऑन व्हील्स सर्विस से वरिष्ठ नागरिक (Senior citizen), दिव्यांगजन और अकेले सफर करने वाले लोगों को आसानी होगी.

इन रूट्स पर 40 Clone Trains चलने से अब मिलेगी सिर्फ़ कन्फर्म टिकट

Luggage will arrive after the start of the journey

राजीव चौधरी ने बताया कि इस सर्विस की खास खूबी यह है कि सामान की सुपुर्दगी रेलगाड़ी के प्रस्थान से पहले की जाएगी. इससे यात्री कोच तक सामान लाने या ले जाने की परेशानी से मुक्त हो एक अलग ही प्रकार की यात्रा का अनुभव करेंगे.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!