Indian Railway New Plan: इंडियन रेलवे का नया प्लान, 40 से ज्यादा स्टेशनों पर बनेंगे मिनी मॉल और फूड कोर्ट

Indian Railway New Plan: इंडियन रेलवे (Indian Railway) हमेशा अपने यात्रियों की सुविधाओं का खास ख्याल रखता है. इसके साथ ही वह अपने यात्रियों की यात्रा को और बेहतर बनाने के लिए लगातार नए नए प्रयास भी करता रहता है. इसी कड़ी में आने वाले दिनों में रेलवे विभाग 40 से ज्यादा रेलवे स्टेशनों को मिनी मॉल में बदल सकता है. रेलवे इसके लिए 17,500 करोड़ का पैकेज तैयार कर रहा है. इन पैसों से स्टेशनों का मॉडर्नाइजेशन इस तरह किया जाएगा कि वह मिनी मॉल की तरह नजर आएंगे. स्टेशन रूफटॉप प्लाजा से लैस होगा. इसमें शॉपिंग सेंटर, फूड कोर्ट और रेस्टोरेंट भी होंगे.  इसके लिए इंडियन रेलवे ने ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया गया है.

आपको बता दें कि इस बार रेलवे ने पहले ही फंड तैयार कर लिया है. सरकार ने पहले चरण  में 46 स्टेशनों के मॉडर्नाइजेशन के लिए 17,500 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं.  रेलवे ने अपने अगले चरण के लिए कुल 9274 में से 300 स्टेशनों के रिडेवलपमेंट की योजना बनाई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जैसा कि रेलवे ब्लूप्रिंट में दिखाया गया है, कई स्टेशनों को एलिवेटेड रोड से जोड़ा जाएगा और कुछ स्टेशनों में एयर कॉनकोर्स, फूड कोर्ट और अन्य सुविधाओं के साथ ट्रैक पर होटल के कमरे होंगे.

Saudi Arabia Found Temple : साऊदी अरब में मिला 800 साल पुराना मंदिर

ब्लूप्रिंट में कहा गया है कि कई स्टेशन एलिवेटेड सड़कों से जुड़ेंगे और कुछ स्टेशनों में पटरियों के ऊपर जगह होगी और होटल के कमरों के साथ-साथ एयर कॉन्कोर्स, फूड कोर्ट और अन्य सुविधाएं होंगी. उदाहरण के लिए सोमनाथ में स्टेशन की छत पर 12 शिखर तैयार किए जाएंगे. यह 12 शिखर 12 ज्योतिर्लिंग का प्रतिनिधित्व करेंगे जबकि बिहार के गया स्टेशन में तीर्थयात्रियों के लिए एक अलग हॉल होगा.  कुछ स्टेशनों के लिए विशेष प्रावधान किए गए हैं.

कन्याकुमारी के लिए 61 करोड़ रुपये और नेल्लोर के लिए 91 करोड़ रुपये, जबकि प्रयागराज और चेन्नई जैसे प्रमुख स्टेशनों को 960 करोड़ रुपये और 842 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं.

46 स्टेशनों का होगा मॉडर्नाइजेशन || 46 Stations will be Modernized

रेलवे पहले चरण में 46 रेलवे स्टेशनों का मॉडर्नाइजेशन  करने के लिए बजट में प्रावधान किया है. साल 2021-22 के बजट में 12 सौ करोड़ रुपए और साल 2022-23 के बजट में 5500 करोड रुपए मंजूर किए हैं. इस तरह से कुल 17500 करोड़ों रुपए मॉडर्नाइजेशन में खर्च होंगे.

Mumbai Pune Vistadome Coach: ये सफर है सुहाना! पुणे-मुंबई रूट पर आ गई कमाल की ट्रेन

क्या होता है ब्लू प्रिंट || what is blue print

किसी भी नई चीज को शुरू करने से पहले उसका एक खाका तैयार किया जाता है. इससे काम को गलती के बिना जल्द पूरा करने में मदद मिलती है.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!