दिवाली के दिन घर के मुख्य द्वार ऐसी बनाएं रंगोली, मां लक्ष्मी होंगी खुश

Diwali : दिवाली के दिन घर के मुख्य दरवाजे पर रंगाली बनाने की एक खास परंपरा है. रंगोली एक विशेष प्रकार की कलाकृति है जो विभिन्न रंगों और आकृतियों में बनाई जाती है. रंगोली को विशेष तरीके से बनाने पर यह एक यन्त्र की तरह की कार्य करता है. (Diwali) इस बार दिवाली 14 नवंबर को मनाया जाएगा.

दिल्ली में दिवाली की नो टेंशन! इन मार्केट से करें सस्ती शॉपिंग

Importance of Rangoli

Diwali के दिन रंगोली बनाने का खास महत्व है. देवी देवताओं के स्वागत, विशेषतः मां लक्ष्मी के लिए इसको घर के मुख्य द्वार पर बनाते हैं. रंगोली में ज्यादातर स्वस्तिक, कमल का फूल या फिर लक्ष्मी जी के पदचिह्न बनाए जाते हैं. ये रंगोली समृद्धि और मंगलकामना का संकेत देती है. रंगोली घरों से नकारात्मक ऊर्जा को भी दूर करती है.

Diwali : जानें दिवाली पर भगवान राम के बजाय लक्ष्मी जी की क्यों होती है पूजा

Rules for making Rangoli

दिवाली के दिन मुख्य द्वार के अलावा मां लक्ष्मी की मूर्ति के समक्ष भी एक गोलाकार रंगोली जरूर बनाएं. इस रंगोली पर एक बड़ा सा घी का दीपक स्थापित करें. रंगोली बनाने में पीले रंग का प्रयोग करना चाहिए और काले रंग से बचाव करना चाहिए. मुख्य द्वार की रंगोली के दोनों ओर दीपक जलाना चाहिए, तभी यह जाग्रत होगा. जाग्रत रंगोली से धन के आगमन की संभावना प्रबल हो जाती है.

दीवाली में ऐसे करेंगे पूजा तो जमकर बरसेगा धन, कभी नहीं होंगे कंगाल

 

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे

error: Content is protected !!