UP Corona Guidelines – यूपी सरकार ने दी रामलीला और बैंड, बाजा, बारात के लिए मंज़ूरी

UP Corona Guidelines – इस साल कोरोना की वजह से यूपी में दुर्गा पूजा आयोजन पर सरकार ने रोक लगा दी है. अगले महीने से नवरात्र शुरू हो रहे हैं. नवरात्र में हर साल दुर्गा पूजा के लिए बड़े-बड़े पंडाल सजाए जाते थे. जिसे देखने के लिए भारी भीड़ जमा होती थी. लेकिन इस बार कोरोना ( UP Corona Guidelines ) संकट के कारण उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दुर्गा पूजा आयोजन को मज़ूरी नहीं दी है.

 

लेकिन वहीं सरकार ने रामलीला के मंचन और शादी में बैंड बाजे को लेकर मंज़ूरी दे दी है. इस साल के आखिरी में सहालग बहुत तेज है. जिसके चलते ये लोगों के लिए एक खुशी की ख़बर है.

 

Char Dham Yatra 2020 – Uttarakhand में शुरू हो गई चार धाम यात्रा, मगर पहले पढ़ें Guidelines

 

आपको बता दें अक्टूबर में लगातार एक के बाद एक त्योहार हैं. इसकी शुरुआत नवरात्र से होने जा रही है. नवरात्र के बाद दशहरा,धनतेरस और फ़िर दीपावली जिसे पूरे जश्न के साथ मनाया जाता है. इस बार कोरोना वायरस की वजह से त्योहारों और अन्य आयोजनों को लेकर सरकार ने सख्ती बरती है. ऐसे में आपको बता दें उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने यूपी में होने वाले दो प्रमुख आयोजनों दुर्गा पूजा और रामलीला को लेकर गाइडलाइंस ( UP Corona Guidelines ) भी जारी की हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जानकारी दी कि हिन्दू धर्म में रामलीलाओं के मंचन बहुत पुरानी परंपरा है. दशकों से रामलीला होती आई है. तो ऐसे में इस बार परंपरा न टूटे इसलिए सरकार ने रामलीलाओं के मंचन के लिए छूट दी है. लेकिन सरकार ने इसके लिए कुछ ज़रुरी नियम और शर्तें ( UP Corona Guidelines ) भी लागू की हैं.

 

रामलीला मचंन के लिए ये कुछ नियम जो करने होंगे फॉलो

सीएम योगी ने कहा कि रामलीला मंचन के दौरान स्थलों पर 100 से ज्यादा दर्शक एक साथ इकट्ठा नहीं होंगे. लोगों को सेनीटाइज़ेशन का पूरा ध्यान देना होगा. और पंडाल में सभी को मास्क लगाना भी ज़रूरी है.

 

इस साल नहीं लगेंगे दुर्गा पूजा के पंडाल

 

कोरोना के चलते सरकार ने दुर्गा पूजा के सार्वजनिक आयोजन पर रोक लगा दी है. लेकिन लोग घरों में दुर्गा जी की प्रतिमा रख सकते हैं.
सीएम ने जानकारी देते हुए कहा कि इस बार दुर्गा पूजा के दौरान किसी भी तरह के जुलूस निकालने की परमिशन नहीं है.

 

मेलों पर भी सरकार ने लगाई रोक

 

हर साल दुर्गा पूजा के दौरान और दशहरे पर भव्य मेलों का आयोजन हर जगह देखने को मिलता था. लेकिन कोरोना की वजह से इस बार मेले के आयोजन पर भी सरकार ने रोक लगा दी है.

 

सरकार ने दी बैंड, बाजा, बारात के लिए मंजूरी

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जानकारी देते हुए कहा कि नवंबर से शादी-ब्याह का सीजन शुरू होने जा रहा है. इसलिए सरकार ने बैंड बाजा और रोड लाइट के लिए मजूरी दे दी है, लेकिन अभी भी शादी-बारात में सभी मेहमानों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा. इसी के साथ ही साथ उन्होंने ये भी निर्देश ( UP Corona Guidelines ) दिए कि शादी-बारात के आयोजनों में सौ से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे.

 

 

Anchal Shukla

मैं आँचल शुक्ला कानपुर में पली बढ़ी हूं। AKTU लखनऊ से 2018 में MBA की पढ़ाई पूरी की। लिखना मेरी आदतों में वैसी शामिल है। वैसे तो जीवन के लिए पैसा महत्वपूर्ण है लेकिन खुद्दारी और ईमानदारी से बढ़कर नहीं। वो क्या है किमैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हें याद रखती हूँ,मैं बातें भूल भी जाऊं तो लहज़े याद रखती हूँ,ज़रा सा हट के चलती हूँ ज़माने की रवायत से,जो सहारा देते हैं वो कंधे हमेशा याद रखती हूँ।कुछ पंक्तिया जो दिल के बेहद करीब हैं।"कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोयेऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये"