Chardham Yatra -केदारनाथ जाना हुआ आसान, 17 साल में पहली बार हेलीकॉप्टर का किराया हुआ कम

 Chardham Yatra- केदारनाथ धाम के लिए चलने वाली हेलीकॉप्टर सेवाओं में 17 सालों में पहली बार तीर्थयात्रियों के लिए कम किराया किया गया है. जिससे तीर्थयात्रियों को बड़ी राहत मिली है. साल 2003 से साल 2020 की अवधि में यह पहला मौका है जब हेलीकॉप्टर किराए में काफी कमी आई है. जिससे देश-विदेश के तीर्थयात्रियों के साथ ही अब लोकल लोगों को भी  हेलीकॉप्टर की यात्रा करने का मौका मिलेगा.

(Chardham Yatra) केदारनाथ धाम के लिए पहली बार साल 2003 में अगस्त्यमुनि क्रीड़ा मैदान से हेली सेवा शरुआत हुई थी. तब एक मात्र पवनहंस ने सेवा शुरू की. इसके बाद साल 2006 से फाटा से प्रभातम एविएशन ने हेली सेवा शुरू की. इसके बाद से तो मानो हेली सेवाओं की बाढ़ सी आ गई। देखते ही देखते केदारनाथ के लिए 13 हेली सेवाएं चलने लगी. हालांकि बाद में यह संख्या 9 हो गईं.

Kedarnath आपदा : 7 साल बाद कितना बदल गया गरुड़चट्टी

कोरोना संकट में बमुश्किल यात्रा शुरू हुई तो हेलीकॉप्टर कंपनियां भी सेवा देने के लिए बेताब हो गई. इसी को देखते हुए उत्तराखंड नागरिक प्राधिकरण यूकाडा ने इस साल 8 हेली कम्पनियों को केदारनाथ उड़ने की अनुमति दी.

इसमें दो नई कम्पियां हैं. बताया जा रहा है कि ऑनलाइन टेंडर में ही नई कम्पनियों ने किराया कम रखा जिससे उन्हें सरकार ने शीघ्र अनुमति दे दी. इधर पहली बार किराया कम होने से तीर्थयात्रयों में भी उत्साह है तो लोकल लोगों में भी हेली सेवा से केदारनाथ जाने की उम्मीद जग गई है.

Char Dham जाएं तो Kedarnath Dham के आसपास यहां जरूर जाएं, ये है Full Travel Guide

सुरेंद्र सिंह पंवार, नोडल अधिकारी हेली सेवा का कहना है कि साल 2003 से पहली बार हेलीकॉप्टर किराए में काफी गिरावट आई है. यह पहला मौका है जब सभी हेलीपैड़ो से किराए में बदलाव आया है. विशेषकर गुप्तकाशी और फाटा हेलीपैड से केदारनाथ जाने के लिए किराए में काफी अंतर आया है. पहले की तुलना में वर्तमान में किराया काफी कम हुआ है.

Past fare and now fare

गुप्तकाशी चारधाम हेलीपैड से केदारनाथ आना जाना पहले 8560 अब 7750

फाटा हेलीपैड से केदारनाथ आना जाना पहले 6170 अब 4720

बडासू हेलीपैड से केदारनाथ आना जाना पहले 6150 अब 4680

शेरसी हेलीपैड से केदारनाथ आना जाना पहले 6150 अब 4680

सोनप्रयाग हेलीपैड से केदारनाथ आना जाना पहले 6150 अब 4680

Uttarakhand Tragedy 2013 – Kedarnath मंदिर के पास मिले 4 मानव कंकाल

Helicopters operating from these helipads

गुप्तकाशी चारधाम हेलीपैड से ऐरो, मैखंडा से पिनैकल, फाटा से पवनहंस, चिप्सन एविएशन, थुम्बी, बडासू से क्रिस्टल एविएशन, शेरसी से हिमालयन हेली और सोनप्रयाग से ऐरो एयर क्राप्ट.

Komal Mishra

मैं कोमल... तो चलिए अपनी लेखनी से आपको घुमाती हूं... पहाड़ों की वादियों में और समंदर के किनारे